टीम इंडिया की जर्सी पर लगेगी करोड़ों की बोली

नई दिल्ली(16 फरवरी): बीसीसीआई ने भारतीय क्रिकेट टीम के ऑफिशल स्पॉन्सर के लिए टेंडर प्रक्रिया शुरू कर दी है। इस बार बीसीसीआई ने अगले पांच सालों के लिए स्पॉन्सरशिप राइट्स देने के लिए 538 करोड़ रुपये का बेसिक प्राइस तय किया है। बता दें अभी टीम इंडिया के स्पॉन्सरशिप राइट्स स्टार इंडिया के पास हैं, जो 31 मार्च 2017 को खत्म हो रहे हैं।

- अप्रैल से अगले पांच साल के बीच टीम इंडिया 259 मैच खेलेगी। 

- जून 2017 में आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी, 2019 में आईसीसी वर्ल्ड कप, 2020 में आईसीसी वर्ल्ड टी-20 और 2021 में आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी का आयोजन होगा।

- बीसीसीआई ने द्विपक्षीय सीरीज मैच के लिए 2.2 करोड़ रुपये और आईसीसी टूर्नमेंट के लिए 70 लाख रुपये का बेस प्राइस तय किया है। बेस प्राइस के हिसाब से भी बीसीसीआई को इस तरह द्विपक्षीय मैचों से 523.6 करोड़ रुपये और आईसीसी प्रॉपर्टी से 14.7 करोड़ रुपये की कमाई होगी। हालांकि बीसीसीआई के पिछले रिकॉर्ड और मौजूदा समय में टीम इंडिया के प्रदर्शन की बदौलत जानकारों को उम्मीद है कि टीम इंडिया की स्पॉन्सरशिप डील के लिए कंपनियों की तरफ से एग्रेसिव बिडिंग मिल सकती है।

- बीसीसीआई के प्रवक्ता ने कहा, ‘हमने टीम इंडिया की स्पॉन्सरशिप डील के लिए टेंडर प्रोसेस शुरू कर दिया है, जो भी कंपनियां इसमें दिलचस्पी रखती हैं, वे टेंडर डॉक्युमेंट भर सकती हैं।’ दुनियाभर में बीसीसीआई को स्पॉन्सरशिप डील से सबसे ज्यादा कमाई होती है। अभी स्टार इंडिया द्विपक्षीय मैच के लिए बीसीसीआई को 1.92 करोड़ रुपये की रकम दे रहा है, जबकि आईसीसी चैंपियनशिप सीरीज के लिए वह 61 लाख रुपये खर्च कर रहा है। इससे पहले बीसीसीआई ने द्विपक्षीय मैच के लिए बेस प्राइस 1.5 करोड़ रुपये तय किया था, जिसे बढ़ाकर अब उसने 2.2 करोड़ रुपये कर दिया है।

- टीम स्पॉन्सरशिप राइट्स मिलने पर स्पॉन्सर कंपनी का कमर्शल लोगो टीम इंडिया की ड्रेस पर होता है। इसमें बीसीसीआई की पुरुष और महिला टीम के अलावा अंडर 19 और इंडिया ए टीम भी शामिल हैं।