कानपुर टेस्ट में 44 साल बाद बना ये रिकॉर्ड

नई दिल्ली(25 सितंबर): भारत और न्यूज़ीलैंड के बीच कानपुर के ग्रीन पार्क में खेले जा रहे ऐतिहासिक 500वें टेस्ट में एक ऐस इतिहास बन गया है जो क्रिकेट इतिहास में पूरे 44 साल बाद दोहराया गया है। जो रिकॉर्ड इस मुकाबले में बना है अब से पहले क्रिकेट इतिहास में सिर्फ 2 टेस्ट मुकाबलों में हुआ है।

- जी हां इस टेस्ट मैच में दूसरे विकेट के लिए 3 बार 100 रन से ज्यादा की साझेदारी हुई है। पहली पारी में भारत के मुरली विजय और चेतेश्वर पुजारा ने 112 रन की साझेदारी निभाई, इसके बाद दूसरी पारी में न्यूज़ीलैंड के लिए टॉम लेथम और केन विलियमसन के बीच 124 रन की साझेदारी हुई। इसके बाद दूसरी पारी में मुरली विजय और चेतेश्वर पुजारा ने एक बार फिर से दूसरे विकेट के लिए 133 रनों की साझेदारी कर ये रिकॉर्ड बना दिया।

- भारतीय टीम से पहले साल 1972-73 में एमसीजी के मैदान पर ऑस्ट्रेलिया और पाकिस्तान के बीच खेले गए मुकाबले में ऐसा हुआ था।  जबकि इसके अलावा एक और बार ऐसा साल 1953 में लॉर्ड्स के मैदान पर इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले गए मैच में हुआ था।