टीम इंडिया में वापसी कर सकता है स्टार गेंदबाज

नई दिल्ली(6 मार्च): भारतीय टीम के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी को आस्ट्रेलिया के खिलाफ रांची में होने वाले तीसरे टेस्ट तक पूरी तरह फिट होकर टीम में वापसी करने की उम्मीद है।

- शमी गत वर्ष नवंबर में इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे टेस्ट में घुटने की चोट के कारण बाहर हो गये थे। लेकिन अब वह अपने रिहैबिलिटेशन से खुश हैं और खुद को फिट महसूस कर रहे हैं।

- शमी अपनी इसी फिटनेस को साबित करने के लिए विजय हजारे ट्रॉफी के बाकी दो मैचों में बंगाल की तरफ से खेलेंगे। वह अपनी फिटनेस का आंकलन करने के लिए बेंगलुरू स्थित राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) में हैं।  

-शमी ने कहा कि टेस्ट में वापसी करने को लेकर मैं बहुत उत्सुक हूं। मैं अपनी फिटनेस साबित करना चाहता हूं इसलिये मैं यहां आया हूं। अगर मैं अपनी फिटनेस साबित कर लेता हूं तो विजय हजारे ट्राफी के अलावा मैं भारतीय टेस्ट टीम में भी वापसी कर सकता हूं।

-ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ रांची और धर्मशाला में होने वाले तीसरे और चौथे टेस्ट मैच के लिए भारतीय टीम की घोषणा बेंगलुरु में होने वाले दूसरे टेस्ट मैच के बाद की जाएगी।  

-26 वर्षीय तेज गेंदबाज ने कहा कि अब मैं अच्छा महसूस कर रहा हूं। लेकिन जब आप चोट के बाद पहला मैच खेलते हैं तो शतप्रतिशत फिट रहना होता है। पिछले सप्ताह जब मैं एनसीए में था तब भी मैंने भारतीय टीम के साथ अभ्यास किया था। मैंने कोच अनिल कुंबले से भी बातचीत की थी और वह भी मेरे फिटनेस से खुश थे। हालांकि शमी ने साथ ही यह भी कहा कि कोच ने उन्हें सलाह दी थी कि टेस्ट टीम में उतरने से पहले उन्हें खुद को पूरी तरह से तैयार रखना होगा जिसके लिये पहले कोई घरेलू मैच जरुर खेलना चाहिये। उन्होंने कहा कि यदि मैं मैदान में उतरता हूं तो मैं अपना शतिप्रशत दूंगा।