कीर्तिमान बनाने के बाद इमोशनल हुए करुण

नई दिल्ली(20 दिसंबर): अपने तीसरे ही टेस्ट में तिहरा शतक लगाकर रिकॉर्ड बनाने वाले करूण नायर की जिंदगी कुछ ही घंटों में बदल गई। उन्होंने स्वीकार किया किया इस भावना से बाहर आने में कुछ समय लगेगा।

- नायर ने कहा कि मेरे साथ सभी कितना अच्छा बर्ताव कर रहे थे। उन्होंने मुझे बधाई दी। मुझे लगता है कि इस भावना से बाहर आने में मुझे कुछ दिन का समय लगेगा। ड्रेसिंग रूम का माहौल हमेशा से काफी अच्छा था और मैंने जो भी किया उसमें उन्होंने मेरा समर्थन किया।

- यह पूछने पर कि उन्होंने तिहरे शतक के बारे में कब सोचा, करूण ने कहा कि 280 रन बनाने के बाद ही उनके जोड़ीदार रविंद्र जडेजा ने शुरूआत इस उपलब्धि को हासिल करने के लिए कहना शुरू कर दिया था।  

- उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि यह कभी मेरे दिमाग में नहीं आया। मेरे 250 रन के पार पहुंचने के बाद, टीम प्रबंधन के गेंदबाजों को निशाना बनाने और पारी घोषित करने को लेकर कुछ योजनाएं थी। इसलिए मुझे लगता है कि पांच आेवर के भीतर मैं 280 से 285 रन तक पहुंच गया, इसी समय मैंने सोचना शुरू किया और जड्डू (जडेजा) मुझे बोलता रहा कि मैं मौके को नहीं गंवाउं और 300 रन आसानी से पूरे करूंं।  इस 25 साल के बल्लेबाज ने कहा कि बेशक 99, 199 और 299 रन के स्कोर पर वह नर्वस थे।