अगर आपका बच्चा भी पढ़ता हैं ट्यूशन तो जरूर देखें यह वीडियो, कांप उठेंगे

न्यूज 24 ब्यूरो, अलीगढ़ (20 नवंबर):  यूपी में एक ट्यूशन टीचर ने हैवानियत की हदें पार कर दीं। एक सात साल के मासूम को इतनी बेरहमी से पीटा कि वीडियो देख मां-बाप की रूह कांप उठी। अलीगढ़ के नौरंगाबाद में मासूम की पिटाई का वीडियो सामने आने के बाद पीड़ित परिवार में हड़कंप मच गया। इस शैतान टीचर की बेरहम पिटाई के बाद छात्र मानसिक रूप से परेशान हो गया, जिसने भी ये वीडियो देखा उसका दिल दहल उठा।

महज़ सात साल से छात्र पर ऐसा ज़ुल्म जैसे कोई जानवर हो जिसकी निहायत ही बेरहमी से पिटाई हो रही हो। शैतान टीचर का ये वीडियो उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ के नौरंगाबाद का है, जहां दुर्गा नगर-विकास नगर की गली नंबर दो के रहने वाला सात वर्षीय मासूम को शास्त्री नगर का एक शिक्षक ट्यूशन पढ़ाता है। शुक्रवार को पिता अमित अपनी सीसीटीवी फुटेज चेक कर रहे थे। इसी दौरान 15 तारीख का वीडियो फुटेज देख उनके होश उड़ गए। जैसे ही उसने अपने बेटे को ट्यूशन शिक्षक द्वारा पिटता हुआ देखा तो वीडियो को और पीछे रिवाइन करके देखा। इस वीडियो में देखा कि टीचर बच्चे को निहायत ही बेरहमी से पीट रहा है।

वीडियो में दिखाई दे रहा है कि शैतान टीचर चारों उंगली मुंह में दबा कर उसे काट रहा है। थप्पड़ मारते हुए अपने पैरों से उसके पैरों को दबा रहा है। अमित घर में ही छोटी सी फैक्ट्री चलाते हैं, जिसमें ताले के पार्ट्स बनते हैं। पिता ने बच्चे के भविष्य के लिए इस ट्यूशन टीचर को लगाया था, लेकिन क्या पता था कि फूल जैसे उनके बेटे को टीचर पढ़ाने के बजाए पीटता है। सीसीटीवी कैमरे की रिकॉर्डिंग देखते ही पूरे परिवार की रूह कांप गई है।

इतना सब कुछ होने के बाद मासूम ने माता-पिता से इसकी शिकायत नहीं की, क्योंकि टीचर ने धमकी दी थी अगर माता-पिता से कहा तो और पीटेगा। इस डर से 7 साल का मासूम चुप रहा है। मासूम की ज़ुबान तो खामोश रही, लेकिन शरीर के चोट और सीसीटीवी ने टीचर की हैवानियत बयान कर दी। वीडियो देखने के बाद पिता अमित अपने बच्चे को लेकर थाने पहुंचे। तभी आरोपी टीचर भी अपने दो भाईयों और एक नेता के साथ थाने पहुंच गया। आरोप है कि टीचर ने अपनी गलती मानते हुए सुलह करने का दबाव बनाया। वहीं नेता ने सुलह न करने पर धमकी भी दी। अब पुलिस मामले की जांच कर रही है।

बच्चे के साथ परिवार भी सदमे में है। पिता ने बताया कि बेटा अभी सदमे से बाहर नहीं निकल पाया है। मासूम की हालत ये हो गई है कि उसे किसी मानसिक रोग विशेषज्ञ से इलाज कराना पड़ेगा। आपने भी अगर बच्चे को ट्यूशन पर लगाया है तो नज़र रखिए, कुछ टीचर इस की तरह शैतान भी होते हैं। ऐसी टीचरों को सख्त से सख्त सज़ा मिलनी चाहिए।