अब ट्रेन में चाय पीने पर वापस मिलेगा नकद पैसा

नई दिल्ली (9 फरवरी): ऐसा लग रहा है कि भारतीय रेल अट्ठारहवीं सदी से आगे निकल कर अब 21वीं सदी की पटरियों पर दौड़ने लगी है। बुलैट ट्रेन से पहले दिल्ली-मुंबई के बीच सुपरफास्ट टेल्गो ट्रेन का ट्रायल रन तय हो गया। दिल्ली-मुंबई के बीच की दूरी सिर्फ सात घण्टे करने की तैयारी शुरु हो चुकी है। अब कहा जा रहा है कि ट्रेन की कैटरिंग भी वर्ल्ड क्लास की होने जा रही है।

रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन यानी आईआरसीटी अब ट्रेन में 25 वैरायटीज़ की चाय पैसेंजर्स को उपलब्ध करायेगा। कहने का मतलब यह कि 'चाय पर चर्चा' अब ट्रेन के भीतर भी संभव हो सकेगी। देसी चाय, आम-पापड़ चाय, हरी मिर्च चाय, कुल्लहड़ चाय, अदरक-तुलसी चाय, शहद-अदरक चाय और लेमन-जिंजर-हनी टी जैसी दो दर्जन से ज्यादा स्वाद की चाय चलती ट्रेन में मिलेगी। भारतीय रेलवे ने पैसेंजर्स को भांति-भांति की चाय पिलाने की योजना 'चायोज़' के साथ शुरु की है। आईआरसीटीसी के चेयरमैन अरुण कुमार मनोचा ने कहा कि जो पैसेंजर्स 300 रुपये से या उससे ज्यादा का ई-ऑर्डर करेंगे उन्हें 10 फीसदी का कैश बैक ऑफर भी शामिल रहेगा।