OMG! 80,000,00000000 करोड़ का फर्जीवाड़ा

नई दिल्ली (4 फरवरी): फर्जी कंपनी बनाकर 80 हजार करोड़ रुपये के फर्जीवाड़ा का मामला समाने आया है। ऑफ डायरेक्ट टैक्स यानी CBDT की माने तो पिछले साल फर्जी कंपनियों ने लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन के रूप में 80 हजार करोड़ रुपए का फायदा उठाया है। बजट प्रस्तावों पर बोलते हुए CBDT के चेयरमैन सुशील चंद्रा ने बताया की बजट में लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन्स टैक्स पर प्रस्ताव इन्ही कंपनियों के लिए दिया गया है, ईमानदार कंपनियों को इस प्रस्ताव से घबराने की कोई जरूरत नहीं है।

फिक्की के पोस्ट बजट सेमिनार में चंद्रा ने कहा कि यह रकम काफी बड़ी है और इस तरह की फर्जी कंपनियों का इस्तेमाल टैक्स चोरी के लिए किया जा रहा है। इस तरीके से टैक्स चोरी करने वाले वाले पहले एक खोका यानि फर्जी कंपनी बनाते हैं। फिर उसमें बेहद मामूली निवेश करते हैं, समय के साथ इस निवेश की वैल्यूएशन बढने पर कंपनी को मार्केट में लिस्ट कराया जाता है। इसके बाद ये लोग अपने निवेश को ऊंचे दाम पर बेच कर बाहर निकल जाते हैं, और इस रकम पर टैक्स छूट ले लेते हैं।

उन्होंने कहा, ‘इसलिए हमने इस दिशा में खासी रिसर्च और काम किया है। मैंने कह सकता हूं कि बीते साल हमने 80 हजार करोड़ रुपए के फर्जी लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन का पता लगाया। यह छोटी रकम नहीं है और ऐसा कैसे होने दिया जा सकता है?