मोदी के इस फैसले ने भर दी सरकार की झोली, 26.2% बढ़ा टैक्स कलेक्शन

नई दिल्ली (17 जून): नोटबंदी को लेकर भले ही मोदी सरकार की आलोचना हुई हो, लेकिन इसके बाद जो आंकड़े सामने आए है वह वाकई में सरकार का खजाना भरने जा रहे हैं। रिपोर्ट के अनुसार, देश में 15 जून तक आयकर कलेक्शन शुद्ध रूप से 26.2 फीसदी बढ़कर 101,024 करोड़ रुपये रहा, जो एक साल पहले तक इस अवधि में 80,075 करोड़ रुपये था।


आयकर विभाग के सूत्रों ने कहा कि इस दौरान मेट्रो शहरों में मुंबई में सबसे ज्यादा टैक्स रेवेन्यू कलेक्शन हुआ है। मुंबई में इनकम टैक्स रेवेन्यू कलेक्शन सबसे ज्यादा 138 फीसदी की बढ़त के साथ 22,884 करोड़ रुपये रहा जो एक साल पहले इसी अवधि में 9614 करोड़ रुपये था।


आयकर संग्रह में दूसरा सबसे अधिक योगदान देने वाला शहर नई दिल्ली रहा है। दिल्ली में आयकर कलेक्शन इस साल 15 जून तक 38 फीसदी बढ़कर 11,582 करोड़ रुपये रहा जो एक साल पहले इसी अवधि में यह 8334 करोड़ रुपये था। सूत्रों के मुताबिक कोलकाता क्षेत्र में टैक्स कलेक्शन 7 फीसदी बढ़कर 4084 करोड़ रुपये रहा जो एक साल पहले इसी अवधि में 3815 करोड़ रुपये था।


इसी प्रकार, बंग्लुरू एरिया में इस साल 15 जून तक आयकर संग्रह 6.8 फीसदी बढ़कर 14,923 करोड़ रुपये रहा जो एक इससे पिछले साल इसी अवधि में 13,973 करोड़ रुपये था। हालांकि चेन्नई एरिया का इनकम टैक्स कलेक्शन देखा जाए तो संग्रह घटकर 8591 करोड़ रुपये रहा जो एक साल पहले इसी अवधि में 8968 करोड़ रुपये रहा था।