भारत में पकड़ बना रहा ISIS, सिर कलम करने का आदेश

नई दिल्ली(11 अक्टूबर): दुनिया के सबसे खूखार आतंकी संगठन में से एक आईएसआईएस पिछले काफी समय से भारत में अपनी पैठ गहरी करने की कोशिश कर रहा है। संगठन ने अपने कार्यकर्ताओं को इस बात का निर्देश दिया है कि हत्याओं के लिए धारदार हथियारों का इस्तेमाल किया जाए और मुख्य रूप से विदेशियों को निशाना बनाया जाए। यह निर्देश दहशत को और ज्यादा बढ़ाने के लिए दिए गए हैं।

- एक वेबसाइट के मुताबिक एक वरिष्ठ खुफिया अधिकारी ने कहा कि आईएस के आतंकियों को उनके आकाओं के तरफ से निर्देश मिले हैं कि वे भारी मात्रा में ऑटोमैटिक हथियार या गोला-बारूद अपने साथ रखने का जोखिम न उठाएं बल्कि हत्याओं (सिर कलम करना) के लिए धारदार हथियारों जैसे कि चाकू वगैरह का इस्तेमाल करें। ऐसा करने से लागत में कमी आएगी और संदेह होने की संभावनाएं भी कम होंगी'

- आईएस आतंकियों द्वारा सिर कलम करने का सबसे पहला मामला जुलाई में सामने आया था, जब पश्चिम बंगाल सीआईडी ने अबु मूसा द्वारा संचालित एक मॉड्यूल पकड़ा था और उसके पास से धारदार हथियार बरामद किए थे। पिछले हफ्ते केरल-तमिलनाडु मॉड्यूल के सदस्यों को गिरफ्तार किया गया है और उनके हवाले से जानकारी मिली है कि उन्होंने दक्षिण के दो राज्यों में विदेशियों को मारने का प्लान बनाया था।

- सुरक्षा और खुफिया एजेंसियों का मानना है कि आईएस के आतंकियों को इन हत्याओं की रिकॉर्डिंग के भी निर्देश दिए गए हैं ताकि बाद में इन्हें आईएस के ऑनलाइन फोरम्स पर शेयर किया जा सके और संगठन को भारत में प्रमोट किया जा सके। ऐसा ही कुछ इस साल 1 जुलाई को ढाका के कैफे में हुए आतंकी हमले में देखने को मिला था। आतंकियों द्वारा विदेशियों की गर्दन काटने के विडियो बनाए गए थे, जिन्हें आईएस ने बाद में शेयर किया था।