कर्नाटक के गृह मंत्री ने सार्वजनिक किया तंजानिया की छात्रा का नाम

बेंगलुरु (4 फरवरी): हमारे देश के राजनेता किसी लड़की की आबरू को लेकर कितने संवेदनशील है, इस खबर से उसके बारे में पता चलता है। कर्नाटक के गृहमंत्री ने एक प्रेस कांफ्रेंस करके यह बताया कि जिस तंजानिया की छात्रा के साथ मारपीट और कपड़े फाड़ने की घटना की खबरें सामने आ रही है, उसके साथ ऐसा कुछ नहीं हुआ है।

सरकार ने लड़की से अभद्र व्‍यवहार करने के आरोप में पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। कर्नाटक के गृहमंत्री ने इस घटना को गंभीरता से लेने की बात कहते हुए कहा है कि यह कोई नस्‍लीय घटना नहीं है। इसी के साथ उन्‍होंने कहा कि छात्रा के ना तो कपड़े फाड़े गए और ना ही उससे कोई न्‍यूड परेड कराई गई। यही नहीं उन्‍होंने मीडिया के सामने उस छात्रा का नाम बताते हुए कहा कि मैं कोई तथ्‍य नहीं छुपाना चाहता।

हालांकि राज्‍य सरकार के इस खुलासे से अलग तंजानिया के राजदूत जॉन डब्‍लूएच किजाजी ने कहा है कि हर कोई अपने अनुसार आंकलन करने का हकदार है, लेकिन जो घटना हुई है उसमें नस्‍लवाद का एक तत्‍व मौजूद है। केंद्र सरकार ने इस मामले में कर्नाटक सरकार से एक रिपोर्ट भी मांगी है, जिसके बारे में बताते हुए वहां के सीएम सिद्धरैमया ने कहा कि इस मामले में 5 पुरुषों को अरेस्‍ट कर लिया गया है और विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज ने मुझे बात की है। उन्‍हें मैं अपने प्रमुख सचिवों के जरिए रिपोर्ट भी भिजवा दूंगा।