Blog single photo

राजीव गांधी के हत्यारों को रिहा किए जाने की सिफारिश करेगी तमिलनाडु सरकार

तमिलनाडु की ऑल इंडिया अन्ना द्रमुक मुनेत्र कड़गम सरकार की कैबिनेट ने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की हत्या के सातों आरोपियों को बरी करने की सिफारिश की है। ये सिफारिशें तमिलनाडु के राज्यपाल को तुरंत भेजी जाएंगी। राजधानी चेन्नई में हुई तमिलनाडु सरकार की कैबिनेट मीटिंग के बाद मंत्री डी जयकुमार ने ये जानकारी दी है।

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली ( 9 सितंबर ):  तमिलनाडु की ऑल इंडिया अन्ना द्रमुक मुनेत्र कड़गम सरकार की कैबिनेट ने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की हत्या के सातों आरोपियों को बरी करने की सिफारिश की है। ये सिफारिशें तमिलनाडु के राज्यपाल को तुरंत भेजी जाएंगी। राजधानी चेन्नई में हुई तमिलनाडु सरकार की कैबिनेट मीटिंग के बाद मंत्री डी जयकुमार ने ये जानकारी दी है।

सुप्रीम कोर्ट में केंद्र सरकार ने राजीव गांधी के हत्यारों को छोड़ने के फैसले का विरोध जताया था। हाल ही में तमिलनाडु सरकार ने राजीव गांधी हत्या मामले के सातों आरोपियों को बरी करने के मामले में पॉजिटिव रुख दिखाया था। इसके बाद संभावना जताई जा रही थी कि पूर्व प्रधानमंत्री की हत्या के अभियुक्तों को बरी करने की दिशा में बात आगे बढ़ सकती है। हालांकि 10 अगस्त को केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से कहा था कि राजीव गांधी हत्याकांड मामले के दोषियों को रिहा नहीं किया जा सकता और उन्हें रिहा करने से एक 'खतरनाक उदाहरण' पेश होने की बात कही थी।राजीव गांधी की हत्या 21 मई 1991 को हुई थीतमिलनाडु के श्रीपेरंबदुर में एक महिला ने 21 मई 1991 की रात चुनावी रैली में आत्मघाती बम बन कर पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की हत्या कर दी थी। महिला की पहचान बाद में धनु के तौर पर हुई थी।

Tags :

NEXT STORY
Top