तालिबान ने अफगानिस्तान में हजारा समुदाय के 17 बस यात्रियों को गोली से भूना

नई दिल्ली (31 मई): तालिबानी आतंकवादियों ने उत्तरी अफगानिस्तान के कुंदुज में कई बसों को रोक कर हजारा समुदाय के 17 लोगों को मौत के घाट उतार दिया। कुंदुज गवर्नर के प्रवक्ता सैयद महमूद दानिश ने घटना के बारे में बताया कि तालिबानियों ने नाका लगाकर कई बसों को रोका और यात्रियों से उनकी जातिगत पहचान दिखाने को कहा। इनमें जो लोग हजारा समुदाय के थे उन्हें लाइन में खडा़ कर गोली मार दी। जबकि गैर हजारा समुदाय के यात्रियों को सुरक्षित छोड़ दिया। अफगानिस्तान की खुफिया एजेंसियों को शक है कि ये हत्याकाण्ड पाकिस्तान की आईएसआई की शह पर किया गया है।

आईएसआई यह मानती है कि हजारा समुदाय पाकिस्तान के खिलाफ अफगानिस्तान और भारत सरकार को खुफियां जानकारियां मुहैया करवाता है। कुंदुज के पुलिस कमांडर शीर अजी़ज़ कामवाल ने बताया है कि तालिबान हाजारा समुदाय के कुछ यात्रियों को अपने साथ बंधक बनाकर ले गये हैं। इनमें महिलाएँ शामिल हैं या नहीं ये अभी पता नहीं चला है। पुलिस और सुरक्षा बलों ने तालिबान की घेराबंदी शुरु कर दी है। बंधकों की तलाश में सर्च ऑपरेशन शुरु कर दिया गया है।