इटली ने कहा, संभलो वरना बिखर जायेगा ईयू

नई दिल्ली (26 जून): ब्रिटेन के यूरोपीय संघ की सदस्यता छोड़ने के पक्ष में मतदान के बाद इटली के मंत्रियों ने आगाह किया कि यूरोपीय संघ को अपनी दिशा बदलनी चाहिए नहीं तो उसके खत्म होने का खतरा पैदा होगा। वित्त मंत्री पीएरे कार्लो पैडोअन ने कहा, ‘वह हो रहा है जिसके बारे में सोचा नहीं गया था।  उन्होंने इटली के अखबार ‘कोरियेर डेला सेरा’ से कहा, बहुत सारी वज़ह हैं जो विभिन्न नतीजे ला सकते हैं जिनमें विघटन की तरफ और जोर देना शामिल है। कार्लो ने कहा कि ईयू नेताओं को समझना चाहिए था कि नौकरियों, विकास एवं आव्रजन के महत्वपूर्ण मुद्दों पर चीजें पहले जैसी नहीं होंगी।

वहीं इटली के विदेश मंत्री पाउलो जेंटिलोनी ने इसीबीच चेतावनी दी कि ब्रिटेन के यूरोपीय संघ छोड़ने के महत्व को या महाद्वीप में यूरोपीय संघ विरोधी भावना के प्रबल होने के खतरे को कमतर आंकना नादानी होगी। उन्होंने  एक साक्षात्कार में कहा कि ब्रिटेन 28 देशों में अकेला नहीं है। अपने वित्तीय बाजार और अंतरराष्ट्रीय प्रभाव के कारण उसका काफी रसूख है। जेंटिलोनी ने कहा, खतरा ऐसा है कि हमें यूरोपीय संघ को नया रूप देने से जुड़ा एक मजबूत एवं साफ संदेश देने की जरूरत है।