जवाबी जंग को तैयार ताईवान, चीन की चौधराहट को नकारा!

नई दिल्ली (27 दिसंबर): ताइवान के राष्ट्रपति ने चीन के इस विचार को शिरे से नकार दिया है कि ताइवान चीन का हिस्सा है। ताईवान ने चीन के कुछ जंगी जहाजों के सोमवार को दक्षिणी चीन सागर में घुस आने पर कहा है कि वो चीन को जवाब देने के लिए तैयार है। चीन ताइवान को अपना हिस्सा मानता है। ताइवान सरकार ने कहा कि एयरक्राफ्ट कैरियर लाइउनिंग के साथ पांच जहाज सोमवार को प्राटस आइलैंड के दक्षिणीपूर्वी हिस्से से होते हुए दक्षिणीपश्चिमी हिस्से की ओर बढ़े। यह टापू ताइवान के अधीन है।

चीन के इस कदम से चीन और ताइवान के बीच विवाद राजनीतिक रुप से यह मुद्दा गरमा गया है। ताइवान के राष्ट्रपति ने चीन के इस विचार को शिरे से नकार दिया है कि ताइवान चीन का हिस्सा है।

ताइवान ने आरोप लगाते हुए कहा कि चीन के एयरक्राफ्ट कैरियर एक दिन पहले ही ताइवान के दक्षिणी भाग से 90 नॉटिकल मील दूर फिलीपिंस और ताइवान के बशी चैनल से होकर गुजरा था। ताइवान की सरकार की प्रवक्ता ने बताया कि, 'हम लगातार स्थिति की निगरानी कर रहे हैं और समझने की कोशिश कर रहे हैं।'