महिलाओं ने बुर्का जलाकर मनाया ISIS से आजादी का जश्न

नई दिल्ली (6 अगस्त): सीरिया के मानबिज शहर को आईएस के चंगुल से छुड़ा लिया गया है। यूएस आर्मी की मदद से सीरिया डेमोक्रेटिक फोर्स ने मानबिज पर अपना वापस कब्जा कर लिया है। इस जीत से वहां की जनता इतनी उत्साहित थी कि उन्होंने सड़कों पर रैलियां निकालीं। जश्न मानने में सीरिया की महिलाएं भी पीछे नहीं रही, उन्होंने बुर्का जलाकर आजादी का जश्न मनाया। 

सीरियन कुर्दिश न्यूज एजेंसी आन्हा ने इन महिलाओं का वीडियो जारी किया है। गौरतलब है कि आईएस का यहां 2014 से कब्जा था। पिछले तीन साल से आईएस के आतंकी यहां की महिलाओं का उत्पीड़न कर रहे थे। उन्हें सेक्स स्लेव बनाया जाता, जानवरों की तरह खरीदा और बेचा जाता था।

इससे पहले आईएस के चंगुल से छूटकर आई कुर्दिश महिलाएं और लड़कियां ने भी आजादी का जश्न कुछ इस तरह ही मनाया था। आईएस से उनकी नफरत का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि जैसे ही वो कुर्दिश इलाके में पहुंचीं तो उन्होंने अपने बदन से काले हिजाब और बुर्के उतार कर फेंक दिए और जोर जोर से बगदादी के खिलाफ नारे लगाए। 

[embed]https://www.youtube.com/watch?v=_5Kp7M6JIlI[/embed]