IS के गढ़ रक्का में घुसी सीरिया की सेना

नई दिल्ली (4 जून): सीरिया की सेना ने आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) का गढ़ माने जाने वाले रक्का प्रांत में शनिवार को प्रवेश किया है। सीरियाई सेना को रूसी की सहायता प्राप्त है। वहीं दूसरी ओर उत्तर दिशा से अमेरिका समर्थित कुर्द लड़ाके भी आगे बढ़ रहे हैं।

रिपोर्ट के मुताबिक, सीरियन ऑबजर्वेटरी ऑफ ह्यूमन राइट्स की तरफ से यह दावा किया गया है। उनका कहना है कि रूस के हवाई हमले की मदद से सीरिया की सेना ने यह कदम उठाया है। ताबका क्षेत्र में यूफरेट्स घाटी कस्बे में 40 किलोमीटर के दायरे तक सेना घुस आई है। सीरिया का सबसे बड़ा बांध ताबका क्षेत्र में ही स्थित है।

जिहादियों की कथित सीरियाई राजधानी राका से करीब 40 किलोमीटर की दूरी पर स्थित यह बांध अमेरिका समर्थित कुर्द लड़ाकों का निशाना है। अगस्त 2014 में इस्लामिक स्टेट के लड़ाकों की तरफ से पीछे धकेले जाने के बाद पहली बार सीरिया की सेना ने राका में प्रवेश किया है।