शांति समझौते के साथ ही सीरिया में 13 अप्रैल को होंगे आम चुनाव

नई दिल्ली (23 फरवरी): सीरिया में नागरिक ठिकानों पर बमबारी रोकने के लिए रूस और अमेरिका में सहमति बन गयी है। दोनों ही देशों ने घोषणा की है कि शनिवार से सीरिया में युद्ध विराम लागू हो जायेगा। हालांकि 'एबीसी डॉट नेट' पर प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार, यह भी कहा गया है कि आईएसआईएस और तालिबान समर्थक अल नुसरा के ठिकानों पर बमबारी जारी रहेगी।

अमेरिका के विदेश मंत्री जॉन कैरी ने कहा है कि दो महाशक्तियों के बीच हुए समझौते से सीरिया में शांति बहाली का रास्ता साफ होगा और लोगों तक मदद और रसद आसानी से पहुंच सकेगी। युद्ध विराम के साथ ही सीरिया के राष्ट्रपति बशर-अल-असद ने भी घोषणा की है कि देश में आम चुनाव 13 अप्रैल को करवाये जायेंगे। अमेरिका के राष्ट्रपति बारक ओबामा ने रूस के राष्ट्रपति ब्लादिमिर पुतिन से बात-चीत के बाद कहा कि दोनों ही देशों ने इस बात को माना है कि सीरिया में शांति बहाली की राह काफी कठिन है, लेकिन दोनों शांति बहाली की हर संभव कोशिश भी करेंगे।

इसके अलावा रूस के राष्ट्रपति पुतिन ने नेशनल टीवी चैनल पर प्रसारित एक विशेष संदेश में कहा कि अमेरिका के साथ हुआ समझौती सीरिया में ख़ून-ख़राबे को रोकने का एक वास्तविक प्रयास है। उन्होंने कहा कि ऐसे प्रयास आतंकवाद खत्म करने का एक अच्छा उदाहरण साबित हो सकते हैं।  पुतिन ने कहा कि हम सीरिया की वैध सरकार को वो सब मदद करेंगे जो आवश्यक है और हम अमेरिका और उसके सहयोगियों का समझौते के अनुरूप समर्थन भी करेंगे।