संयुक्त राष्ट्र में भारत ने किया पाकिस्तान को बेनकाब

प्रशांत देव, नई दिल्ली (14 जुलाई): दुनिया के सामने पाकिस्तान एक बार फिर बेनकाब हो गया है। इस बार पाकिस्तान को आईना दिखाया यूएन में भारत के प्रतिनिधि सैय्यद अकबरुद्दीन ने। दरअसल संयुक्त राष्ट्र में मानवाधिकार मुद्दे पर हुई उच्च स्तरीय बैठक हो रही थी। जिसमें भारत ने कश्मीर को लेकर पाकिस्तानी दलीलों की धज्जियां उड़ा दीं। 

संयुक्त राष्ट्र में भारत के दूत सैयद अकबरुद्दीन ने पाकिस्तान पर बड़ा हमला बोला। अकबरुद्दीन ने संयुक्त राष्ट्र में मानवाधिकार के विषय पर आयोजित विशेष कॉन्फ्रेंस में पाकिस्तान का ऐसा बैंड बजाया है कि उसकी सिट्टी-पिट्टी गुम है और एक बार फिर उसका चेहरा बेनकाब हो गया।

सैय्यद अकबरुद्दीन ने कहा, "ये खेदजनक है कि पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र के मंच का ‘दुरूपयोग’ करने की कोशिश की। अफसोस है कि आज हमने संयुक्तराष्ट्र मंच के दुरूपयोग का प्रयास होते देखा। ये प्रयास पाकिस्तान ने किया, एक ऐसा देश जो दूसरों के भूभाग का लालच करता है, एक ऐसा देश जो दिग्भ्रमित लक्ष्य की पूर्ति के लिए आतंकवाद को एक सरकारी नीति के रूप में इस्तेमाल करता है, एक ऐसा देश जो आतंकियों का गुणगान करता है और संयुक्त राष्ट्र की ओर से आतंकी घोषित किए गए लोगों को पनाहगाह उपलब्ध करवाता है।"  

अकबरुद्दीन का ये भाषण पाकिस्तान के प्रतिनिधि को जवाब था। जिसने इसी कार्यक्रम के दौरान कश्मीर का मुद्दा उठाकर भारत पर हमला बोला था। पाकिस्तान की दूत मलीहा लोदी की ओर से संयुक्त राष्ट्र महासभा में मानवाधिकारों पर बहस के दौरान कश्मीर और वानी की मौत के बारे में जिक्र किया गया था। जिस पर पलटवार करते हुए अकबरुद्दीन ने कहा कि पाकिस्तान आतंकियों का ‘गुणगान’ करता है और दूसरों के भूभाग के लालच में आतंकवाद का इस्तेमाल सरकारी नीति के तौर पर करता है।