उत्तर प्रदेश: 20 रुपए के लिए 'स्वीपर' ने नहीं लगाया इंजेक्शन, सरकारी अस्पताल में बच्चे ने दम तोड़ा

नई दिल्ली (10 अगस्त): उत्तर प्रदेश के बहराइच जिला अस्पताल में लापरवाही का एक बेहद दर्दनाक मामला सामने आया है। यहां एक स्वीपर ने बच्चे को इंजेक्शन लगाने के लिए परिवार वालों से 20 रुपए की मांग की। जब तीमारदारों ने मना कर दिया तो उसने बच्चे को इंजेक्शन नहीं दिया। आखिरकार इलाज के अभाव में मासूम की मंगलवार सुबह मौत हो गई।

- रिपोर्ट के मुताबिक, गुस्साए तीमारदारों ने अस्पताल में जमकर हंगामा किया।  - स्वीपर को हटाए जाने और पूरे मामले की जांच के आश्वासन के बाद मामला शांत हुआ।  - परिवार वालों का कहना था कि अस्पताल में डॉक्टर के न होने पर स्वीपर ही इंजेक्शन लगा रहा था।

क्या है पूरा मामला - बहराइच के खमरिया गांव के कृष्णा (10 माह) को कई दिनों से बुखार था।  - दो दिन पहले उल्टी दस्त की शिकायत होने पर मां सुमिता ने उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया। - यहां पर डॉक्टर ने खून की कमी होने की बात कहते हुए उसका इलाज शुरू किया।  - हर रात बच्चे को एक इंजेक्शन लगता था। - सोमवार रात सुमिता ने वार्ड में मौजूद स्वीपर पवन कुमार से इंजेक्शन लगाने के लिए कहा। इस पर उसने 20 रुपए की मांग की। - सुमिता ने पैसे सुबह देने को कहा तो स्वीपर ने इंजेक्शन लगाने से इनकार कर दिया। वह इंजेक्शन भी सुबह लगाने की बात कहकर वहां से चला गया। - इंजेक्शन न लगने क वजह से मंगलवार सुबह कृष्णा की मौत हो गई। - इस बात पर परिजनों व तीमारदारों ने लापरवाही व अवैध वसूली के विरोध में जाम लगाकर हंगामा शुरू कर दिया।  - सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने किसी तरह समझा कर लोगो को शांत कराया।