दोनों हिंदू लड़कियों को परिवार के पास वापस भेजें पाकिस्तान: सुषमा स्वराज

न्यूज 24, नई दिल्ली (26 मार्च): पाकिस्तान में दो नाबालिग हिंदू लड़कियों का कथित रूप से निकाह करवाने वाले मौलवी को रविवार गिरफ्तार कर लिया गया है। जानकारी के मुताबिक इन नाबालिग हिंदू लड़कियों का अपहरण के बाद जबरन धर्म परिवर्तन करा दिया गया था। पाकिस्तानी मीडिया में आयी खबर के अनुसार इन नाबालिग लड़कियों ने पंजाब प्रांत की एक अदालत से सुरक्षा की गुहार लगायी है। पाक मीडिया के मुताबिक किशोरियों ने पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में बहावलपुर की अदालत में सुरक्षा के लिये गुहार लगाई है। इसमें कहा गया कि निकाह करवाने वाले मौलवी को सिंध में खानपुर से गिरफ्तार किया गया। 

इस बीच विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने मंगलवार को कहा कि पाकिस्तान को उन दोनों हिंदू लड़कियों को उनके परिवार के पास वापस भेज देना चाहिए जिनका होली की शाम को जबरन धर्म परिवर्तन करवाकर शादी करवा दी गई थी। वहीं इस्लामाबाद उच्च न्यायालय ने दोनों नाबालिग लड़कियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने की जिम्मेदारी राज्य को सौंपी है। 

इस घटना को लेकर भारत में भी काफी नाराजगी है। विदेश मंत्री ने इसे लेकर ट्विटर पर तीन ट्वीट किए। अपने पहले ट्वीट में उन्होंने कहा, 'पाकिस्तान में दो हिंदू लड़कियों का जबरन धर्मांतरण कराया गया। लड़कियों की उम्र को लेकर कोई विवाद नहीं है। रवीना मात्र 13 साल और रीना 15 साल की है।