दिल्ली: बड़ी साजिश नाकाम, अलकायदा का मोस्ट वांटेड आतंकी गिरफ्तार

नई दिल्ली (10 अगस्त): केंद्रीय एंजेसियों को आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में बुधवार को बहुत बड़ी कामयाबी मिली है। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने अलकायदा के संदिग्ध आतंकी को गिरफ्तार किया। अल कायदा से जुड़े के मोस्ट वांटेंड आतंकी को सऊदी अरब से भारत लेकर आया गया है। इस आतंकी का नाम सैयद मोहम्मद जीशान अली है और यह आतंकी अल कायदा के भारतीय उपमहाद्वीप के लिए बनाए गए संगठन एक्यूआईएस का आतंकी है। 

जीशान अली सऊदी अरब में रह रहा था और जून 2016 से वह दिल्ली पुलिस की मोस्ट वांटेंड लिस्ट में शामिल था। जीशान का नाम दिल्ली पुलिस की चार्जशीट में भी था। जीशान अली मूल रूप से जमेशदपुर का रहने वाला है और वह सऊदी अरब से अपना काम चला रहा था। बताया जा रहा है कि जीशान की शादी, साल 2007 में ग्लॉसगो इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर हुए आतंकी हमले के मास्टरमाइंड काफील अहमद की चचेरी बहन से हुई है। जीशान का भाई सैयद मोहम्मद अर्शियान पर भी कई आतंकी संगठनों से जुड़े होने का आरोप है।  

इस संदिग्ध आतंकी की तलाश पश्चिम बंगाल पुलिस को भी थी फिलहाल उसे पश्चिम बंगाल पुलिस के हवाले कर दिया गया है। हाल के दिनों में अलकायदा और आईएसआईएस समेत कई आतंकी संगठनों पर सुरक्षा एजेंसियों ने कड़ी कार्रवाई की है। इससे पहले यूपी से आईएस के संदिग्ध आतंकी को गिरफ्तार किया गया था। संदिग्ध आतंकी अंसार बांग्ला गुट से जुड़ा आतंकी है। बंगाल पुलिस ने उसके खिलाफ मामला दर्ज किया है। दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर पश्चिम बंगाल पुलिस को सौंप दिया है। उसके खिलाफ फेक करंसी रैकेट का मामला दर्ज किया गया है। पिछले हफ्ते यूपी एटीएस ने भी इस गुट से जुड़े एक संदिग्ध को गिरफ्तार किया था।