महज 90 डॉलर के लिए की गई किम जोंग नम की हत्या!

नई दिल्ली ( 26 फरवरी ): उत्तर कोरिया के तानाशाह शासक किम जोंग उन के सौतेले भाई की हत्‍या के मामले में चौकाने वाला खुलासा हुआ है। संदिग्ध आरोपी महिलाओं में से एक इंडोनेशियाई महिला ने बताया कि उसे इस काम के लिए 90 डॉलर दिए गए। इसकी वजह से उसे लगा कि वह एक मजाक का हिस्सा है।

इंडोनेशियन अधिकारी के मुताबिक, किम जोंग उन के भाई किम जोंग नम की हत्या के मामले में संदिग्ध इंडोनेशियाई महिला ने बताया कि उसको इस काम के लिए 90 डॉलर दिए गए थे। इस महिला के अनुसार, उसे लगा कि वह किसी प्रैंक यानी मजाक का हिस्सा है।

मलेशिया में इंडोनेशिया के डिप्टी एंबेस्डर एंड्रियानो इरविन ने जानकारी दी कि सिति ऐसयाह नामक इस महिला ने अधिकारियों से कहा कि वह नहीं चाहती थी कि उसके माता-पिता उसे हिरासत में देखें। ऐसयाह से मिलने के आधे घंटे बाद इरविन ने बताया, 'वह नहीं चाहती की उसकी हालत देख उसका परिवार दुखी हो।' उन्होंने बताया, उसने हमारे जरिए अपने माता पिता के लिए केवल यही संदेश दिया कि वे चिंता न करें और अपना ध्यान रखें।

कुआलालंपुर एयरपोर्ट पर 13 फरवरी को यात्रियों की भीड़ भाड़ में ही सुनियोजित तरीके से किम जोंग उन के सौतेले भाई किम जोंग नम की हत्‍या कर दी गई थी। हमले के कुछ ही घंटों के भीतर किम की मौत हो गई जिसमें दो महिलाएं किम के पीछे गईं और उसके चेहरे पर कुछ लगा दिया। 25 वर्षीय ऐसयाह ने पहले कहा कि उसे इस हमले में फंसाया गया है लेकिन मलेशियाई पुलिस ने कहा कि उसके साथ एक और वियतनाम की महिला संदिग्ध है और उसे भी पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। अब तक की जानकारी के मुताबिक उत्तरी कोरिया ने किम की हत्या के लिए एक टीम मलेशिया भेजा था।