पीओके लेकर रहेगा भारत: सुषमा स्वराज

नई दिल्ली ( 5 मार्च ): विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने लोकसभा में बुधवार को पाकिस्तान को करारा जवाब दिया। सुषमा स्वराज ने कहा कि गिलगित, बाल्टिस्तान को पांचवा प्रांत बनाने के पाकिस्तान के कदम को भारत पूरी तरह से खारिज करता है। सुषमा ने कहा कि भारत इस संकल्प को दोहराता है कि पीओके, गिलगित, बाल्टिस्तान समेत पूरा का पूरा कश्मीर हमारा है। विदेश मंत्री ने लोकसभा में साफ शब्दों में कहा कि ये सोचना गलत होगा कि भारत अपने किसी हिस्से को जाने देगा।


इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चेनानी-नशरी टनल के उद्घाटन के बाद रविवार को रैली में पीओके पर पाकिस्तान के अवैध कब्जे पर सवाल उठाते हुए वहां की बदहाली का जिक्र किया था।


बीजेडी के सांसद भर्तृहरि महताब द्वारा गिलगित, बाल्टिस्तान को पांचवा प्रांत बनाने के पाकिस्तान के कदम का मुद्दा उठाने पर विदेश मंत्री ने कहा कि सरकार समेत पूरा का पूरा सदन इस भावना से संबद्ध करता है कि पूरा का पूरा कश्मीर हमारा है। गिलगित, बाल्टिस्तान को पाकिस्तान द्वारा पांचवां प्रांत बनाने की खबर आई तब भारत सरकार ने इसे बिना समय गंवाए खारिज किया।


सुषमा स्वराज ने कहा कि कश्मीर के बारे में लोकसभा और राज्य सभा दोनों में प्रस्ताव पारित है, संसद ने प्रस्ताव पारित किया है कि पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके), गिलगित, बाल्टिस्तान समेत पूरा का पूरा कश्मीर हमारा है।


सुषमा ने कहा कि आज जिसकी सरकार है, उस पार्टी का तो नारा ही रहा है कि ‘‘जहां हुए बलिदान मुखर्जी वो कश्मीर हमारा है, जो कश्मीर हमारा है, वो सारा का सारा है।’’ विदेश मंत्री ने कहा कि संसद का संकल्प तो है ही और हम तो स्वयं के संकल्प से भी बंधे हुए हैं। पाकिस्तान द्वारा गिलगित, बाल्टिस्तान को पांचवां प्रांत बनाने को हम अस्वीकार करते हैं।