सुषमा की यूएन में दहाड़: कश्मीर भारत का हिस्सा है और रहेगा

नई दिल्ली (26 सितंबर): यूएन में पाकिस्तान पर हमला करते हुए भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कोई मौका नहीं छोड़ा। सुषमा ने यहां पर कहा कि हर कोई समझ लें कि कश्मीर भारत का अभिन्न अंग हैं और रहेगा।

कश्मीर पर नवाज शरीफ के बयान पर बोलते हुए सुषमा ने यूएन में कहा कि एक चीज बता दूं कि अगर पाकिस्तान ये समझता है कि वह इस तरह की हरकत करके या भड़काऊ बयान देकर भारत का कोई हिस्सा हमसे छीन सकता है तो मैं पूरी दृढ़ता और स्पष्टता से कहना चाहती हूं कि आपका ये मंसूबा कभी पूरा नहीं होगा। कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा है और अभिन्न हिस्सा रहेगा, इसलिए ये ख्वाब देखना छोड़ दें।

सुषमा ने पाकिस्तान के पीएम नवाज शरीफ के उस बयान पर वार करते हुए कहा कि भारत ने बात करने के लिए शर्ते रखी हैं, वह हमें मंजूर नहीं। उन्होंने यूएन में साफ किया कि भारत पाकिस्तान पर शर्तें थोप रहा है। मैं पूछना चाहती हूं कि कौन-सी शर्त। किस शर्त की बात की जा रही है? हमारे शपथ ग्रहण से पहले जब हमने आपके प्रधानमंत्री को न्योता दिया था, तो क्या कोई शर्त रखी थी? मैं खुद इस्लामाबाद गई थी समग्र वार्ता शुरू करवाने के लिए तो क्या कोई शर्त रखी थी? प्रधानमंत्री मोदी काबुल से दिल्ली आते हुए लाहौर उतर गए थे। कोई शर्त लगाकर गए थे क्या?

उन्होंने कहा कि हमने शर्तों के आधार पर नहीं, मित्रता के आधार पर सारे मसले सुलझाने की पहल की थी। कभी ईद की शुभकामनाएं। कभी क्रिकेट की शुभकामनाएं। कभी स्वास्थ्य का कुशल-क्षेम। हमने दो बरस में मित्रता का वो पैमाना खड़ा किया जो पहले कभी नहीं था। हमें मिला क्या बदले में? पठानकोट, उड़ी, बहादुर अली? मैं पूछना चाहती हूं- हम शर्तें लगा रहे हैं या आप दूसरी नीयत दिखा रहे हैं?

वीडियो: [embed]https://www.youtube.com/watch?v=BGU3J_tZzBk[/embed]