"यूपी की तरह बिहार में भी बने 'एंटी-रोमियो स्क्वायड' और बंद हो बूचड़खाने"

सौरभ कुमार, पटना (25 मार्च): भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने उत्तर प्रदेश की तर्ज पर बिहार में भी मनचलों पर नकेल कसने के लिए 'एंटी-रोमियो स्क्वायड' बनाने की मांग की है तो दूसरी तरफ प्रेम कुमार ने भी बिहार में बूचड़खाना बंद करने की मांग की। बदले में बिहार सरकार बीजेपी को यूपी में शराबबंदी करने की नसीहत दे रही है।


सुशील कुमार मोदी ने कहा कि ऐसे दस्ते के महिलाओं और लड़कियों की सुरक्षा के लिए भीड़भाड़ वाले क्षेत्रों में और स्कूल और कॉलेजों के इर्द-गिर्द तैनात किया जाना चाहिए। मोदी ने कहा कि हाल के दिनों में सड़कों पर महिलाओं और लड़कियों के खिलाफ बढ़े अपराध को ध्यान में रखते हुए यहां एंटी-रोमियो स्क्वायड बनाना जरूरी है।


आजकल बिहार बीजेपी के नेताओ में आगे बढ़ने और योगी नीति अपनाने की होड़ लगी है। हर नेता एक दूसरे से आगे निकलना चाहता है। सुशील मोदी के मांग के बाद नेता विपक्ष प्रेम कुमार ने भी बिहार में बूचड़खाना बंद करने की मांग कर डाली और बिहार में हिन्दू वाहिनी की शाखा खोले जाने का स्वागत भी किया।


कांग्रेस का पलटवार

सबसे पहले कांग्रेस ने पलटवार करते हुए कहा कि ये सब बीजेपी और आरआरएस का प्रोपगंडा है। ये लोग पहले अपने अभिभावकों और बच्चों को संस्कार देते तो अच्छा होता। मोरल पुलिसिंग की बात कर रहे लोग पहले अपना पुलिसिंग कराएं।


तेजस्वी ने कहा, मन की शुद्धी कराएं

कांग्रेस के बाद उपमुख्यमंत्री तेजस्वी ने कहा कि बीजेपी के लोग पहले अपने मन की शुद्धी कराएं। शराब पीने से ही सबसे अधिक अपराध की घटना घटने की आशंका होती है। शराबबंदी से इसपर काबू पाया जा सकता है। क्या योगी सरकार यूपी में शराबबंदी करायेगी ?