पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी हैं सेकुलर, संघ का निमंत्रण स्वीकार करना गलत नहीं- सुशील कुमार शिंदे

नई दिल्ली (4 जून): पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के संघ का कार्यक्रम में शामिल होने के न्यौते को स्वीकार करने पर जारी घमासान के बीच कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार शिंदे में बचाव किया है। पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा है कि प्रणब मुखर्जी एक सेकुलर व्यक्ति हैं। लिहाजा संघ के कार्यक्रम में उनके शामिल होने का फैसला सही है। उन्होंने कहा कि पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी के धर्मनिरपेक्ष विचारों से संघ में सुधार होगा।

सुशील कुमार शिंदे ने कहा कि ‘प्रणब मुखर्जी एक धर्मनिरपेक्ष व्यक्ति हैं। वह हमेशा धर्मनिरपेक्ष दृष्टिकोण सामने रखेंगे और वहां भी वह वही करेंगे। वह बहुत अच्छे चिंतक हैं और उनका वहां जाना एवं उस मंच पर भाषण देना एक महत्वपूर्ण बात है।’ साथ ही उन्होंने कहा कि मुखर्जी द्वारा न्यौता स्वीकारना गलत नहीं है और यदि उनके विचारों से राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ में कुछ सुधार आता हे तो हमें बहुत खुशी होगी।आपको बात दें कि पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को नागपुर में संघ के मुख्यालय नागपुर में स्वयंसेवकों के प्रशिक्षण शिविर ‘संघ शिक्षा वर्ग’ के समापन कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि आमंत्रित किया गया है। यह कार्यक्रम सात जून को होगा।