विधानसभा चुनावः पंजाब में अकाली-बीजेपी तीसरी बार- सर्वे रिपोर्ट

नई दिल्ली (5 जनवरी): ठीक एक महीने बाद पंजाब में विधानसभा चुनाव के लिए वोटिंग होगी। अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी पहली बार पंजाब विधानसभा चुनाव में ताल ठोक रही है। लोकनीति-सीएसडीएस के सर्वे के मुताबिक,  पंजाब में चौंकाने वाले नतीजे हो सकते हैं। सत्ताधारी अकाली-बीजेपी गठबंधन लगातार तीसरी बार सरकार बना सकती है। केजरीवाल की आम आदमी पार्टी तीसरे पायदान पर रह सकती है। सर्वे 10 से 18 दिसंबर के बीच 48 विधानसभा क्षेत्रों में किया गया।

पंजाब में कुल 117 विधानसभा सीटें हैं जहां 4 फरवरी को वोटिंग है। नतीजे 11 मार्च को आएंगे। सर्वे के मुताबिक अकाली-बीजेपी गठबंधन अपनी सरकार बचाती दिख रही है। गठबंधन को सबसे 50 से 58 सीटें मिल सकती हैं। सरकार बनाने के लिए कम से कम 59 सीटों की जरूरत है। सर्वे के मुताबिक बीजेपी-अकाली गठबंधन को 34 प्रतिशत वोट मिल सकते हैं।

 विधानसभा चुनाव के मैदान में उतरी है, लेकिन सर्वे में उसे बड़ा झटका दिख रहा है। आम आदमी पार्टी के पंजाब में 4 लोकसभा सांसद हैं और विधानसभा चुनाव में उसे 12 से 18 सीटें मिलने का अनुमान है। सर्वे के मुताबिक एएपी  को 21 प्रतिशत वोट मिल सकते हैं। आम आदमी पार्टी पंजाब चुनाव में अपनी पूरी ताकत झोक चुकी है। दिल्ली के मुख्यमंत्री और पार्टी संयोजक अरविंद केजरीवाल समेत उनकी पार्टी के तमाम नेता पंजाब में धुआंधार चुनाव प्रचार कर रहे हैं, लेकिन परिणाम आशा के अनुरूप मिलने की संभावना नहीं है।