अचानक अस्पताल पहुंचे सुरेश राणा, अधिका‍रियों में हड़कंप

नई दिल्ली (24 अप्रैल): गन्ना विकास और औद्योगिक राज्य मंत्री सुरेश राणा ने अचानक शामली के अस्पताल में छापा मारा। अस्पताल की हालत देखकर मंत्रीजी काफी नाराज हुए। वहीं रामपुर में बीजेपी विधायक राजबाला ने अचनाक तहसील का जायजा लिया। यूपी में मुख्यमंत्री योगी के साथ-साथ मंत्री और बीजेपी के विधायक तक सब फुल एक्शन में हैं।


शामली के जिला अस्पताल में राज्य के गन्ना विकास और औद्योगिक राज्य मंत्री सुरेश राणा के अचानक पहुंचने से हड़कंप मच गया। अस्पताल में हर तरफ गंदगी पाकर मंत्री बेहद नाराज हुए। मंत्री सुरेश राणा ने अस्पताल में मरीजों से मुलाकात भी की। इस दौरान उन्हें एक महिला ने गाड़ी नहीं मिलने की शिकायत करते हुए किराए की गाड़ी से आने की मजबूरी बताई। इस पर मंत्री जी ने तत्काल सीएमओ से इसको लेकर जवाब तलब किया।


सुरेश राणा ने अस्पताल के चप्पे-चप्पे का जायजा लिया। पीने के पानी तक की जांच की और जाते-जाते अस्पताल में सुधार के लिए अधिकारियों को हफ्ते भर का समय दिया। मंत्री के अलावा बीजेपी के विधायकों की सरकारी दफ्तरों में छापेमारी जारी है।


रामपुर की मिलक शाहबाद विधानसभा से बीजेपी विधायक राजबाला अचानक तहसील का जायजा लेने पहुंच गईं। उन्होंने अधिकारियों की एक औचक बैठक बुलाई और सख्त निर्देश दिया कि तहसील में एक भी किसान और गरीब बिना सुनवाई के न लौटे। सूचना के बावजूद बैठक से नदारद रहे अफसरों पर विधायक बिफ़र गईं। उन्होंने एसडीएम से इसको लेकर विभागीय करवाई के निर्देश दे दिए। विधायक राजबाला ने तहसील में फरियादियों की शिकायतें भी सुनीं। तहसील के बाद विधायक ने गेहूं क्रय केन्द्र और सरकारी स्कूल का जायजा भी लिया।


बैरिया के बीजेपी विधायक सुरेंद्र नाथ सिंह भी अचानक से बैरिया थाना जा पहुंचे। वहां पुलिस कांस्टेबल को नशे की हालत में उन्होंने डंडा के बल पर अवैध वसूली करते पाया। इसके लिए विधायक ने रंजीत यादव और दिनेश यादव नाम के दो कांस्टेबल को जमकर हड़काया। जानकारी मिलने पर एसपी ने इस सिलसिले में जांच के बाद कार्रवाई का भरोसा दिया है।