बुलेट ट्रेन का किया जा रहा है गलत प्रचार: सुरेश प्रभु

नई दिल्ली (27 अप्रैल): बुलेट ट्रेन को विकास के लिए महत्वपूर्ण बताते हुए सरकार ने कहा कि इस विषय पर जानबूझकर गलत प्रचार किया जा रहा है और सार्वजनिक धन का उपयोग आम लोगों की सुविधा एवं रेल सुधार पर ही होगा।

रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने कहा कि जानबूझकर बुलेट ट्रेन के बारे में गलत प्रचार किया जा रहा है। बुलेट ट्रेन को जापान के सहयोग से पूरा किया जा रहा है और हाई स्पीड ट्रेन तथा सामान्य गति की आम आदमी की रेलगाड़ियों पर इसका कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा। उन्होंने सवाल किया कि पहले बुलेट ट्रेन परियोजना नहीं थी तब क्यों नहीं तेजी से काम हुआ।

प्रभु ने कहा कि बुलेट ट्रेन आने के साथ देश में अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी आएगी, जो देश के विकास में बहुत बड़ा योगदान देगी। जापान ने 0.1 प्रतिशत की दर से रिण मुहैया कराया है तथा इससे कम ब्याज दर वाला रिण और कहीं नहीं मिल सकता है। इस परियोजना के बारे में आशंकाओं को भी गलत बताते हुए उन्होंने कहा कि इसके लिए मैं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को धन्यवाद देता हूं जिनकी निजी पहल के कारण यह संभव हो सका जबकि काफी पहले से प्रयास चल रहे थे।

प्रभु ने सदन को भरोसा दिलाया कि बुलेट ट्रेन और अन्य हाई स्पीड ट्रेनों के चलने से आम आदमी की साधारण ट्रेनों की गति प्रभावित नहीं होगी। उन्होंने कहा कि बुलेट ट्रेन के साथ आने वाली नयी प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल से अन्य ट्रेनों की गति भी बढ़ेगी। गति पकड़ने में जितनी भी बाधाएं हैं उन्हें दूर किया जाएगा और सभी श्रेणी की ट्रेनों की गति को बढ़ाया जाएगा।