निठारी कांड: नंदा देवी मर्डर केस में सुरेंद्र कोली को मौत की सजा

नई दिल्ली(7 अक्टूबर): बहुचर्चित निठारी कांड में नर पिशाच के नाम से कुख्यात सुरेंद्र कोली को नंदा देवी मर्डर केस में सजा-ए-मौत मिली है। बीते बुधवार को गाजियाबाद में सीबीआई की स्पेशल कोर्ट ने उसे इस मामले में दोषी करार दिया था। इससे पहले निठारी कांड से संबंधित करीब पांच मामलों में उसे दोषी करार देते हुए कोर्ट पहले ही फांसी की सजा सुना चुकी है। इस पर सुप्रीम कोर्ट का स्टे है।

सीबीआई के जज पवन तिवारी ने सुरेंद्र कोली को उसके मालिक मनिंदर सिंह पंधेर के घर पर काम करने वाली 25 वर्षीय नौकरानी नंदा देवी की हत्या के मामले में दोषी ठहराया था। नंदा देवी 31 अक्तूबर 2006 को लापता हो गई थी। विशेष लोक अभियोजक ने कहा कि कोर्ट ने कोली को नंदा का अपहरण करने, उसकी हत्या, रेप करने और सबूत नष्ट करने का दोषी ठहराया था।