सूरत रेप पीड़िता की हुई पहचान, आंध प्रदेश की थी बच्ची

नई दिल्ली(17 अप्रैल): गुजरात के सूरत में हुए दुष्कर्म मामले में पीड़िता की पहचान हो गई है। बच्ची आंध्र प्रदेश की बताई गई है और रिपोर्ट्स के मुताबिक, वह अपने घर से पिछले साल अक्टूबर से गायब थी। 

- सूरत के पुलिस कमिश्नर सतीश शर्मा ने कहा, 'पीड़िता के घर वाले सूरत पहुंच चुके हैं और जल्द ही बच्ची की शिनाख्त के लिए डीएनए टेस्ट करवाया जाएगा।' 

- बता दें कि 11 साल की इस बच्ची से रेप करने के बाद हत्या कर दी गई थी। 

- पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में बच्ची के शरीर पर 86 चोटों के निशान पाए गए। इससे पहले पुलिस को जियाव बुडिया रोड के पास क्रिकेट ग्राउंड में झाड़ियों के पीछे बच्ची का शव मिला था।   - पुलिस ने बताया कि डॉक्टरों की जांच में बच्ची की मौत गला दबाने पर दम घुटने के कारण हुई है। सूरत के सिविल अस्पताल में फरेंसिक विभाग के हेड गणेश गोवेकर ने बताया कि बच्ची को लगी चोटें किसी लकड़ी के हथियार के इस्तेमाल की ओर इशारा करती हैं। उसके घाव एक से सात दिन पुराने थे। उसे 86 बाहरी चोटें लगी थीं।