बुलंदशहर गैंगरेप मामले की सीबीआई जांच पर रोक

नई दिल्ली (29 अगस्त): सुप्रीम कोर्ट ने बुलंदशहर गैंगरेप मामले की सीबीआई जांच पर रोक लगा दी है। पीड़ित ने अपनी याचिका में मामले को यूपी से बाहर दिल्ली ट्रान्सफर करने की मांग की है।

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 12 अगस्त को बुलंदशहर में मां-बेटी के साथ हुए सामूहिक दुष्कर्म के मामले की सीबीआई जांच के आदेश दिए थे। हाईकोर्ट ने स्वत: संज्ञान लेते हुए इसकी जांच सीबीआई को सौंप दी थी।

बता दें कि 29 जुलाई को एक परिवार नोएडा से शाहजहांपुर जा रहा था। एनएच-91 पर दोस्तपुर गांव के पास कुछ बदमाशों ने रास्ता रोक लिया और परिवार से पैसे, गहने जेवर लूटे गये और महिलाओं के साथ दुष्कर्म भी किया गया। 

तभी से लगातार इसकी सीबीआई जांच की मांग की जा रही थी। भारतीय जनता पार्टी समेत कई विरोधी पार्टियां इस घटना की सीबीआई जांच की मांग कर रही थी। भारतीय जनता पार्टी ने बुलंदशहर की घटना को लेकर प्रदर्शन किया था और राज्य सरकार को हर मोरचे पर विफल बताया।

वहीं यूपी के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी इस घटना पर  कहा था कि अगर इसकी जांच सीबीआई से करायी जाए तो मुझे भी इसमें कोई आपत्ति नहीं है। इस मामले पर जिस तरह राजनीति की जा रही है वो उचित नहीं है। यह घटना बेहद शर्मनाक है इसका राजनीतिक लाभ लेने के लिए इस पर राजनीति नहीं करनी चाहिए।