'OMR शीट पर पेन का हो इस्तेमाल'

नई दिल्ली (26 जुलाई): न्यायिक सेवा परीक्षा को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने आज अहम दिशानिर्देश जारी किए। कोर्ट ने अपने आदेश में कहा कि उत्तर पुस्तिका आरटीआई के तहत दी जाए। साथ ने कोर्ट ने ओएमआर शीट में पेन का इस्तेमाल हो। 

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि प्रिलिम्स में भरी जाने वाली ऑब्जेक्टिव शीट में पेन्सिल की बजाए पेन का इस्तेमाल हो। फाइनल परीक्षा की उत्तर पुस्तिका की कॉपी आरटीआई के जरिए हासिल की जा सकेगी। प्राथमिक परीक्षा, अंतिम परीक्षा और इंटरव्यू के नतीजों में रोल नंबर के साथ नाम भी लिखा जाएगा।

सुप्रीम कोर्ट ने यह दिशानिर्देश दिल्ली न्यायिक सेवा 2014 से संबंधित एक विवाद की सुनवाई के दौरान जारी दिए।  दरअसल, परीक्षा में दस हजार अभ्यर्थियों ने आवेदन किया। 80 पदों के लिए रिजल्ट निकला तो सिर्फ 15 लोगों सफल घोषित हुए।

बाद में यह बात सामने आई कि सेलेक्ट किए गए उम्मीदवार में कई हाईकोर्ट के जजों या रजिस्ट्रार के रिश्तेदार हैं। तमाम ऐसे लोग जो दूसरे राज्यों में जज थे, वो दिल्ली न्यायिक सेवा की मेरिट लिस्ट में जगह नहीं बना पाए।