उत्तराखंड में जारी रहेगा राष्ट्रपति शासन : SC

नई दिल्ली (27 अप्रैल) : उत्तराखंड मामले में सुप्रीम कोर्ट ने हाईकोर्ट के फैसले पर रोक लगा दी है। इतना ही नहीं कोर्ट ने विधानसभा में 29 अप्रैल को होने वाले बहुमत परीक्षण पर भी लोग लगा दी है। अब इस मामले की अगली सुनवाई 3 मई को सुप्रीम कोर्ट में होगी। 

उत्तराखंड में राष्ट्रपति शासन लगाए जाने के विरोध में कांग्रेस ने हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। दोनों पक्षों की सुनवाई के बाद कोर्ट ने 29 अप्रैल को विधानसभा में बहुमत परीक्षण करने का कहा था। अब मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है। राष्ट्रपति शासन लगाए जाने के पीछे सुप्रीम कोर्ट मे सात बिंदुओं पर सवाल पूछकर जवाब देने को कहा है।

सुप्रीम कोर्ट ने पूछा कि क्या राज्यपाल ने बहुमत परीक्षण के लिए कहा था? क्या बागी एमएलए की सदस्यता रद्द करना सही है? विनियोग बिल पर राष्ट्रपति की क्या राय है? और फ्लोर टेस्ट में देरी, राष्ट्रपति शासन का आधरा है? सुप्रीम कोर्ट की खंडपीठ ने हाईकोर्ट के फैसले पर रोक लगाते हुए उत्तराखंड में राष्ट्रपति शासन जारी रखने की बात कही। साथ ही 29 अप्रैल को होने वाले शक्ति परीक्षण पर भी रोक लगा दी।