पोर्नोग्राफी पर SC सख्त, कहा- बच्चों को इस अनैतिक हमले से बचाना जरूरी

नई दिल्ली (26 फरवरी): सुप्रीम कोर्ट ने बच्चों द्वारा मोबाइल पर पोर्न देखने पर कड़ा रुख अपनाया है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि बच्चों को इस तरह के अनैतिक हमले से बचाना जरूरी है।

मामले की सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने सरकार को इसे रोकन के लिए सख्त कदम उठाने को कहा है। साथ ही यह भी कहा कि अभिव्यक्ति की आज़ादी के नाम पर बच्चों के साथ प्रयोग की इजाज़त नहीं दी जा सकती। बच्चों को इस तरह के अनैतिक हमले से बचाना बेहद ज़रूरी।

मामले में सभी पक्षों के वकीलों से सुप्रीम कोर्ट ने अपने-अपने सुझाव देने को कहा है। साथ ही सरकार से सार्वजनिक जगह पर पोर्न देखने के खिलाफ कार्रवाई को लेकर जवाब मांगा है। इस मामले में अगली सुनवाई के लिए 20 मार्च का दिन तय किया गया है।