सुप्रीम कोर्ट के फंदे में नवाज़ शरीफ की गर्दन, खोखले जबाबों से अदालत नाराज़

नई दिल्ली (7 नवंबर): पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट भ्रष्टाचार के आरोपों से घिरे पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ पर धीरे-धीरे शिकंजा कस्ता जा रहा है। पनामा पेपर लीक्‍स मामले में नवाज शरीफ के तीन बेटी-बेटों द्वारा सौंपे गए जवाबों से असंतुष्ट और नाराज़ सुप्रीम कोर्ट ने विदेशी कारोबार में नवाज़ परिवार के निवेश को के दस्तावेज सौंपने को कहा है। नवाज़ शरीफ खास तौर पर मरियम के मामले में तो साफ-साफ फंसते नजर आ रहे हैं।

पाकिस्तानी संसद में नवाज शरीफ ने जो कागज दाखिल किये हैं उनमें नवाज़ शरीफ ने मरियम को अपना डिपेंडेंट बताय़ा है। जबकि उनके वकील सलमान असलम बट्ट ने अदालत में कहा है कि मरियम नवाज प्रधानमंत्री पर निर्भर नहीं हैं। वो एक शादीशुदा के तौर स्वतंत्र जीवन जी रही हैं। सभी तीनों बच्चों ने अपने खिलाफ लगाए आरोपों से इनकार किया है। अदालत ने उस धन के बारे में पूछा जो शरीफ के परिवार ने विदेशी कारोबार में लगाया है और संबद्ध दस्तावेजों को सौंपने के लिए हफ्ते भर का वक्त दिया। अदालत की कार्रवाई 15 नवंबर तक के लिए स्थगित कर दी गई।