लोकपाल पर सुप्रीम कोर्ट में केंद्र की दलील, कहा- मौजूदा हालात में नियुक्ति संभव नहीं

नई दिल्ली (28 मार्च): देश में लोकपाल की नियुक्ति को लेकर दायर याचिका पर सुनावाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने आज अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है। मामले की सुनावाई को दौरान सरकार ने कहा है कि मौजूदा हालात में अभी देश में लोकपाल की नियुक्ति संभव नहीं है। सरकार का पक्ष रखते हुए महाधिवक्ता मुकुल रोहतगी ने कहा कि वर्तमान में जो स्थिति है, उसमें लोकपाल की नियुक्ति संभव नहीं है। उन्होंने कहा कि लोकसभा में विपक्ष का नेता नहीं है, जो लोकपाल की प्रक्रिया का अंग होता है। 


महाधिवक्ता मुकुल रोहतगी का कहना था कि जब तक संसद में इस संशोधन को मंजूरी नहीं मिल जाती कि सबसे बड़े दल का नेता विपक्ष का नेता होगा, लोकपाल की नियुक्ति संभव नहीं है।


आपको बता दें कि 2014 के आम चुनावों में किसी भी दल को इतनी सीटें नहीं मिली थी कि उसके नेता को विपक्ष के नेता का दर्जा मिल सके। भाजपा को बहुमत मिला था, जबकि 10 वर्षों से केन्द्र की सत्ता पर काबिज कांग्रेस केवल 44 सीटों पर सिमट गई थी और विपक्ष के नेता पद के लिये आवश्यक संख्या उसके पास नहीं थी।