एडमिरल सुनील लांबा होंगे अगले चीफ्स ऑफ स्टाफ कमेटी

नई दिल्ली (29 दिसंबर): नेवी चीफ ऐडमिरल सुनील लांबा ही चीफ्स ऑफ स्टाफ कमिटी के चेयरमैन होंगे। वह रिटायर होने जा रहे एयरफोर्स चीफ अरूप राहा की जगह लेंगे।

लांबा ने चेयरमैन के तौर पर जिम्मेदारी गुरुवार को ली, लेकिन वह अपना कार्यभार शनिवार को संभालेंगे। उस दिन राहा के साथ आर्मी चीफ जनरल दलबीर सिंह भी रिटायर हो जाएंगे। बीएस धनोवा नए एयरफोर्स चीफ, जबकि बिपिन रावत नए आर्मी चीफ बनेंगे। तब लांबा चीफ्स ऑफ स्टाफ कमिटी के चेयरमैन बन जाएंगे। यह पद तीनों सेनाओं के सबसे सीनियर अफसर को मिलता है, जो सेनाओं में तालमेल बनाते हुए सरकार को सलाह देता है। हालांकि यह रस्मी पद है। चेयरमैन पद को रिटायरमेंट तक रोटेशन के आधार पर दिया जाता है, सो लांबा चेयरमैन के पद पर मई 2019 में अपने रिटायरमेंट तक बने रहेंगे।

बहरहाल, चर्चा है कि सरकार चीफ्स ऑफ डिफेंस स्टाफ का पद बनाने जा रही है, जो सरकार के लिए सिंगल पॉइंट सलाहकार का काम करेगा। इस पद के बनने में छह महीने से एक साल का समय लगने के आसार हैं। सेना में सुधारों की दिशा में इस बड़े कदम की सिफारिश 2001 में की गई थी, लेकिन इस संवेदनशील मसले पर राजनीतिक आम सहमति का इंतजार है। यह अगर यह पद नहीं बना तो चीफ्स ऑफ स्टाफ कमिटी का परमानेंट चेयरमैन भी बनाया जा सकता है जिस पर आम सहमति बन जाने के आसार हैं।