BCCI के लिए महंगे साबित हो रहे गावसकर, करार पर लग सकता है ब्रेक

नई दिल्ली (5 अप्रैल): भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के साथ सुनिल गावस्कर का बतौर फुलटाइम कमेंटेटर का करार खत्म होने के बाद उन्हें इस कार्य से मुक्त करने का मन बना रही है। बीसीसीआई इस करार को आगे नहीं बढ़ाने पर विचार कर रही है। टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार गावसकर बीसीसीआई के लिए बेहद महंगे साबित हो रहे हैं।

एक मैच की कमेंट्री के लिए बीसीसीआई गावसकर को 10 लाख रुपए देती है। जो कि अन्य के मुकाबले कई गुणा ज्यादा है। इसका अंदाजा आप इस आंकड़े से लगा सकते हैं कि गावसकर जहां 10 रुपए एक दिन के लिए दिए जाते हैं वहीं संजय मांजरेकर को 3-4 लाख रुपए मिलते हैं। अगर सीरीज की बात करें तो भारत-दक्षिण अफ्रीका सीरीज के लिए संजय मांजरेकर को 36.49 लाख रुपए की पेमेंट की गई और अनिल कुंबले को 39.1 लाख की, लेकिन इसी सीरीज के लिए गावसकर को बोर्ड ने करीब 90 लाख रुपए दिए।

सूत्रों के मुताबिक, अप्रैल-मई में बीसीसीआई के साथ गावसकर का कांट्रैक्ट खत्म होने वाला है। इसके बाद बोर्ड इस करार को आगे बढ़ाना नहीं चाहता है। बोर्ड गावसकर की जगह संजय को हर्षा भोगले के साथ बतौर फुलटाइम कमेंटेटर के तौर पर रख सकता है।