गावस्कर बोले, धोनी का ये छक्का देखकर मरना चाहूंगा

नई दिल्ली(6 जनवरी): वनडे और टी-20 से कप्तानी छोड़ने के बाद महेंद्र सिंह धोनी को लेकर तमाम रिएक्शन आ रही हैं। लिटिल मास्टर सुनील गावस्कर ने धोनी के सम्मान में दो बातें कहीं।

- उन्होंने कहा, ‘अगर जिंदगी के 15 सेकंड बचे हों तो मैं धोनी का वर्ल्डकप का आखिरी छक्का देखकर खुशी-खुशी मरना चाहूंगा। साथ ही उन्होंने कहा, 'अगर धोनी ने एक खिलाड़ी के तौर पर भी संन्यास ले लिया होता तो उनकी वापसी के लिए उनके घर के आगे धरने पर बैठने वाला मैं पहला शख्स होता।'

-गावस्कर ने कहा, ‘धोनी में इतनी काबिलियत है कि वे एक ओवर में मैच का पासा पलट देते हैं। भारत को खिलाड़ी के रूप में उनकी जरूरत है। मुझे खुशी है कि उन्होंने एक खिलाड़ी के रूप में बने रहने का फैसला किया।’

- गावसकर के मुताबिक, 'धोनी के कप्तान नहीं रहने से उन्हें बल्लेबाजी और विकेटकीपिंग में मदद मिलेगी। कोहली निश्चित तौर पर उन्हें नंबर चार या पांच बैट्समैन के रूप में इस्तेमाल करेंगे।'

- 'वे फिनिशर हैं लेकिन वे नंबर चार या पांच पर उतरकर बड़ी पारी खेल सकते हैं और तब भी फिनिशर की भूमिका निभा सकते हैं।'

- गावसकर कहते हैं, 'उनके लिए विकेटकीपिंग अब ज्यादा आसान हो जाएगी क्योंकि उन्हें अब बॉलिंग में बदलाव और फील्डिंग के बारे में नहीं सोचना होगा।'

- 'विराट और धोनी मैदान में एक-दूसरे के सहयोगी बनकर टीम को जीत दिलाएंगे।'