नक्सलियों का सबसे बड़ा एनकाउंटर, 23 मरे

नई दिल्ली ( 24 अक्टूबर ) : छत्तीसगढ़ की सीमा से लगे ओडिशा के मलकानगिरी के जंगल में सोमवार सुबह हुई मुठभेड़ में ग्रे हाउंड फोर्स ने 23 नक्सलियों को मार गिराया। घटना में दो जवान घायल हो गए। मुठभेड़ बालीमेला थाना क्षेत्र के बेगांगी के जंगल में हुई है। पुलिस घटनास्थल पर सर्चिंग कर रही है, माना जा रहा है कि फायरिंग में करीब 23 नक्सली मारे गए हैं, इनमें से 17 पुरुष नक्सली हैं और 6 महिला नक्सली। इनके पास से चार एके 47, दो एसएलआर और दो इंसास बंदूके बरामद की गई हैं।

जानकारी के मुताबिक पुलिस को सूचना मिली थी कि नक्सली नेता गजाराल रावी उर्फ उदय, बेनगाल सुधीर और अनिल बैठक के‍ लिए जंगल में आए हैं। इस सूचना पर रविवार शाम से ही इलाके में फोर्स को तैनात किया गया था। आंध्र प्रदेश की ग्रे हाउंड फोर्स और विशाखापट्टनम आर्मड स्पेशल पार्टी ने इसे अंजाम दिया।

पुलिस के अनुसार मारे गए नक्सलियों में बड़ा नक्सली नेता और पूर्वी डिविजन का सेकेट्री छालापती उर्फ अप्पा राव, मलकानगिरी डिविजन सेकेट्री गजारला रावी और मुन्ना सहित सेंट्रल कमेटी का सदस्य रामकृष्ण उर्फ आरके शामिल हैं। जबकि मुठभेड़ में बाकुरी वेंकटरमण उर्फ गणेश भागने में कामयाब हो गया।

गौरतलब है कि तीन दिन पहले छत्तीसगढ़ के जगदलपुर में 15 नक्सलियों ने पुलिस के सामने आत्मसमर्पण किया था। पुलिस के मुताबिक इलाके में सक्रिय नक्सलियों को अपने नेताओं से मोहभंग हो चुका है। राज्य सरकार द्वारा संचालित योजनाओं की कामयाबी के चलते नक्सली मुख्य धारा में जुड़ने की कोशिश कर रहे हैं।