'ब्रह्मोस' मिसाइल लेकर लड़ाकू विमान Su-30MKI ने पहली बार भरी उड़ान

नई दिल्ली (25 जून): सुखोई 30 एमकेआई विमान ने देश में बने सुपरसोनिक मिसाइल ब्रह्मोस मिसाइल के साथ शनिवार को पहली बार उड़ान भरी। यह उड़ान नासिक के हिंदुस्तान एयरोनाटिकल लिमिटेड (एचएएल) हवाई अड्डे से भरी। 

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इस तरह यह लड़ाकू विमान भारतीय वायुसेना के लिए एक घातक हथियार ‘डिलीवरी प्लेटफार्म’ बन गया। ब्रह्मोस एयरोस्पेस प्राइवेट लिमिटेड (बीएपीएल) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एवं प्रबंध निदेशक सुधीर कुमार मिश्र ने इसकी जानकारी दी। उन्होंने कहा, "विश्व में ऐसा पहली बार हुआ जब किसी लड़ाकू विमान पर इतनी भारी (2500 किलोग्राम) सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल लगायी गई।"

एचएएल की ओर से एक रिलीज जारी की गई। जिसमें कहा गया है कि विमान 45 मिनट तक हवा में रहा। इस विमान को विंग कमांडर प्रशांत नायर और विंग कमांडर एमएस राजू ने उड़ाया। दोनों एयरक्राफ्ट एंड सिस्टम टेस्टिंग इस्टैब्लिशमेंट के परीक्षण उड़ान चालक दल के सदस्य थे। करीब 40 सुखोई 30 एमकेआई विमानों में और सुधार किये जाने की उम्मीद है।