मोदी को निशाना बना सकते हैं 12 से 15 साल के फिदाईन

नई दिल्ली (24 जनवरी): आईएसआईएस के आत्मघाती हमलावर इस गणतंत्र दिवस पर पीएम नरेंद्र मोदी को निशाना बनाने की साजिश रच सकते हैं। खुफिया एजेंसियों को  आशंका है कि 12 से 15 साल के बीच के आत्मघाती हमलावर देश में दाखिल हो गए हैं, वे हथियार चलाने और धमाके करने में एक्सपर्ट हैं। बच्चों की भीड़ में शामिल होकर ये खतरनाक फिदाईन वीवीआईपी तक पहुंच सकते हैं। 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पिछले स्वतंत्रता दिवस पर पीएम मोदी सुरक्षा घेरा तोड़कर लाल किले पर बच्चों के बीच पहुंच गए थे। आतंकी संगठन जानते हैं कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अक्सर लीक से हटकर काम करते हैं। वो अपनी सुरक्षा की भी परवाह नहीं करते। इन्हीं सब बातों पर आतंकी संगठनों की नज़र है और वो किसी भी छोटी सी चूक का बड़ा फायदा लेने की फिराक में हैं। गणतंत्र दिवस पर हमले की आशंका को देखते हुए एसपीजी और वरिष्ठ सलाहकारों को इस बारे में जानकारी दी गई है और उनसे कहा गया है कि वे इस बात का ध्यान रखें कि प्रधानमंत्री सुरक्षा घेरे से बाहर न जायें।