कव्वाल अमजद साबरी के परिवार को सता रहा मौत का खौफ, पाकिस्तान छोड़ने की तैयारी


इस्लामाबाद (10 अप्रैल):  पाकिस्तान में पिछले साल कव्वाल और सूफियाना संगीत के बड़े नाम अमजद साबरी की हत्या कर दी गई थी। अब उनके परिवार को भी अपनी मौत का डर सताने लगा है। ऐसे में अमजद साबरी का परिवार पाकिस्तान छोड़कर लंदन जाने की तैयारी कर रहा है। पाकिस्तानी मीडिया के हवाले से अमजद के भाई अजमत साबरी का कहना है कि उनके परिवार को लग रहा है कि उन पर निगाह रखी जा रही है। उन्हें अपनी सुरक्षा को लेकर डर सता रहा है।


दिवंगत सूफी कव्वाल के भाई अजमत साबरी का कहना है कि अमजद की हत्या के बाद से लियाकतबाद में हमारी जिंदगी दांव पर लगी है।हम पर लगातार निगाह रखी जा रही है। इस तरह हम खुद को स्वच्छंद और सुखी नहीं महसूस कर रहे हैं। हम असुरक्षित महसूस करते हैं और इन परिस्थितियों में जीना मुश्किल होता जा रहा है। विदेश जाने के लिए अमजद की मां ने नवाज शरीफ सरकार से मदद मांगी है। हालांकि अजमत ने कहा कि उन्होंने पूर्व चीफ जस्टिस इफ्तिखार चौधरी के जरिये वीजा के लिए आवेदन किया है। कहा कि वे सरकार से अपने यात्रा खर्चे को वहन करने की गुहार लगाएंगे। पूर्व चीफ जस्टिस रविवार को लियाकतबाद स्थित साबरी के घर गए थे।


आपको बता दें कि पाकिस्तान के सबसे प्रसिद्ध सूफी कव्वालों में से एक अमजद साबरी को आतंकियों ने 22 जून, 2016 को घात लगाकर मार दिया था। अमजद अपने घर से एक टेलीविजन स्टूडियो के लिए निकले थे। तभी मोटरसाइकिल सवार हमलावरों ने उनकी कार को रोका और उन पर गोलियों की बौछार कर दी। अमजद की मौके पर ही मौत हो गई थी।