राम मंदिर पर बोले सुब्रमण्यम स्वामी, 'समझौता नहीं हुआ तो कोर्ट से हल होगा विवाद'

नई दिल्ली  (4 मई): बीजेपी नेता और वरिष्ठ वकील सुब्रमण्यम स्वामी ने एकबार फिर अयोध्या में रामजन्म भूमि पर मंदिर निर्माण की बात कही है। उन्होंने कहा कि अगर मुसलमान इस मामले में समझौता नहीं करना चाहते तो मामले को समाधान अब अदालत से ही होगा।


स्वामी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात के बाद कहा कि अगर वे समझौता नहीं करना चाहते, तो अदालत तो है ही। साथ ही उन्होंने कहा कि हम इलाहाबाद हाईकोर्ट में केस जीत ही चुके हैं। जहां (बाबरी मस्जिद का) मध्य गुम्बद था, वहीं आस्था के अनुसार रामलला का जन्मस्थल है। हालांकि स्वामी ने मुख्यमंत्री योगी से हुई मुलाकात का ब्यौरा देने से इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि हिन्दू-मुस्लिम एकता करनी है, मस्जिद कहीं भी बना लीजिये। जहां राम पैदा हुए, वहां तो बना नहीं सकते। मंदिर था, तोड़कर मस्जिद बनायी थी।


आपको बता दें कि हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने रामजन्मभूमि-बाबरी मस्जिद मामले को संवेदनशील बताते हुए सम्बन्धित दोनों पक्षों से आपसी सहमति से हल निकालने का सुझाव देते हुए पेशकश की थी कि अगर दोनों पक्ष चाहें तो अदालत इसमें मध्यस्थता के लिये तैयार है। हालांकि मामले के एक प्रमुख पक्षकार ऑल इण्डिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने गत 15 अप्रैल को अपनी कार्यकारिणी की बैठक में इस पेशकश को नामंजूर करते हुए कहा था कि बातचीत के बजाय सिर्फ अदालत से ही इस मसले का हल निकलेगा।