नई डिजायर की तुलना एक्सेंट, अमेज़, टिगॉर, एस्पायर और एमियो से


भारत में कॉम्पैक्ट सेडान कारों की मांग बढ़ रही है और इस सेगमेंट हर कंपनी मौजूद है। मार्च में यहां टाटा मोटर्स की नई कॉम्पैक्ट सेडान टिगॉर की एंट्री हुई थी, इसके बाद हाल ही में हुंडई ने फेसलिफ्ट एक्सेंट को यहां उतारा, जल्द ही इस सेगमेंट में नई डिजायर आने वाली है, इसे 16 मई को लॉन्च किया जाएगा। यहां हमने कई मोर्चों पर नई डिजायर की तुलना में मुकाबले में मौजूद हुंडई एक्सेंट, होंडा अमेज़, टाटा टिगॉर, फोर्ड फीगो एस्पायर और फॉक्सवेगन एमियो से की है,

तो क्या रहे इस तुलना के लिए नतीजे, जानने के लिए बढ़ते हैं आगे...

कीमत और फीचर

 पेट्रोलडीज़ल
डिजायर5.5 लाख से 7.8 लाख रूपए (संभावित)6.2 लाख से 9 लाख रूपए (संभावित)
एक्सेंट5.42 लाख से 7.55 लाख रूपए6.32 लाख से 8.45 लाख रूपए
टिगॉर4.7 लाख से 6.19 लाख रूपए5.6 लाख से 7.09 लाख रूपए
अमेज़5.53 लाख से 8.43 लाख रूपए6.66 लाख से 8.44 लाख रूपए
एस्पायर5.45 लाख से 8.29 लाख रूपए6.55 लाख से 7.99 लाख रूपए
एमियो5.53 लाख से 7.38 लाख रूपए6.93 लाख से 9.88 लाख रूपए

कीमत के मोर्चे पर टिगॉर सबसे किफायती पेशकश है, जबकि एमियो डीज़ल सबसे महंगी। मारूति डिजायर की कीमत का अभी खुलासा नहीं हुआ है, संभावना है कि इसे आक्रामक कीमत पर उतारा जाएगा। डिजायर में सुरक्षा को काफी पुख्ता किया गया है, इस में ड्यूल एयरबैग और एबीएस सभी वेरिएंट में स्टैंडर्ड मिलेंगे।

नई डिजायर का टॉप वेरिएंट पहले से महंगा होगा, इस में एपल कारप्ले और एंड्रॉयड ऑटो कनेक्टिविटी सपोर्ट करने वाला टचस्क्रीन इंफोटेंमेंट सिस्टम, ऑटो एलईडी हैडलैंप्स, एलईडी डे-टाइम रनिंग लाइटें, पुश/बटन स्टार्ट स्टॉप और ऑटोमैटिक क्लाइमेट कंट्रोल के साथ रियर एसी वेंट्स मिलेंगे। इसके टॉप वेरिएंट जेड प्लस में ऑटोमैटिक गियरबॉक्स का विकल्प भी आएगा।

हुंडई ने हाल ही में फेसलिफ्ट एक्सेंट उतारी है, इस में एपल कारपले और एंड्रॉयड ऑटो सपोर्ट करने वाला 7.0 इंच का टचस्क्रीन इंफोटेंमेंट सिस्टम, रियर पार्किंग कैमरा, ऑटोमैटिक एसी, पुश बटन स्टार्ट/स्टॉप और 15 इंच के डायमंड कट अलॉय व्हील दिए गए हैं। एक्सेंट के पेट्रोल टॉप वेरिएंट की कीमत 7.55 लाख रूपए और डीज़ल टॉप वेरिएंट की कीमत 8.45 लाख रूपए है, कीमत और फीचर के लिहाज़ से ये अच्छी वैल्यू फॉर मनी कार है।

कीमत के मामले में टिगॉर किफायती पेशकश है, इसके टॉप वेरिएंट एक्सजेड में प्रोजेक्टर हैडलैंप्स, टचस्क्रीन इंफोटेंमेंट सिस्टम, रियर पार्किंग कैमरा, ऑटोमैटिक क्लाइमेट कंट्रोल और हारमन कारडन का साउंड सिस्टम दिया गया है, इस में एलईडी डे-टाइम रनिंग लाइटें, एपल कारप्ले और एंड्रॉयड ऑटो और पुश बटन स्टार्ट/स्टॉप फीचर का अभाव है, ये सुविधा एक्सेंट और नई डिजायर के टॉप वेरिएंट में दी गई हैं।

सेगमेंट में एमियो सबसे महंगी पेशकश है, लेकिन इस में मिलने वाले फीचर इसे जायज़ ठहरा देते हैं। इस में क्रूज़ कंट्रोल, ऑटोमैटिक रेन सेंसिंग वाइपर्स, मिररलिंक कनेक्टिविटी वाला टचस्क्रीन इंफोटेंमेंट सिस्टम, रिवर्स पार्किंग कैमरा जैसे अच्छे और काम के फीचर मिलते हैं।   

दूसरी कारों के मुकाबले अमेज़ और एस्पायर काफी पुरानी हैं, इन में टचस्क्रीन इंफोटेंमेंट सिस्टम और रियर पार्किंग कैमरा नहीं दिया गया है। सुरक्षा की दृष्टि से एस्पायर सबसे बेहतर है, इस में छह एयरबैग का विकल्प आता है और लैदर अपहोल्स्ट्री भी दी गई है।

कद-काठी

सभी कारों की लम्बाई 4 मीटर के दायरे में है और इस मामले में कोई बड़ा अंतर देखने को नहीं मिलेगा। चौड़ाई के मामले में डिजायर सबसे आगे है, इसकी चौड़ाई को 40 एमएम बढ़ाकर 1735 एमएम किया गया है, इस मामले में एस्पायर (1695 एमएम) दूसरे, टिगॉर (1687 एमएम) तीसरे, एमियो (1682 एमएम) चौथे, अमेज़ (1680 एमएम) पांचवे और एक्सेंट (1660 एमएम) छठवें नम्बर पर है। ऊंचाई में टिगॉर सबसे आगे है, यह 1537 एमएम ऊंची है, इस मामले में एस्पायर (1525 एमएम) दूसरे, एक्सेंट (1520 एमएम) तीसरे, डिजायर (1515 एमएम) चौथे, अमेज़ (1505 एमएम) पांचवे और एमियो (1483 एमएम) छठवें नम्बर पर है।

व्हीलबेस के मामले में फोर्ड एस्पायर पहले पायदान पर है, इसका व्हीलबेस 2491 एमएम है, इस मामले में एमियो (2470 एमएम) दूसरे, डिजायर और टिगॉर (2450 एमएम) तीसरे, एक्सेंट (2425 एमएम) चौथे और अमेज़ (2405 एमएम) पांचवे नम्बर पर है।

बूट स्पेस के मामले में टाटा टिगॉर सबसे आगे है, टिगॉर का बूट 419 लीटर का है, जबकि सबसे छोटा एमियो (330 लीटर) का है। डिजायर का बूट स्पेस 376 लीटर का है, यह पहले से 60 लीटर ज्यादा है।

परफॉर्मेंस

फीगो एस्पायर के अलावा सभी कारों में एक पेट्रोल और एक डीज़ल इंजन का विकल्प मिलता है, जबकि एस्पायर में दो पेट्रोल और एक डीज़ल इंजन का विकल्प रखा गया है। टिगॉर को छोड़कर सभी कारों के पेट्रोल वर्जन में ऑटोमैटिक की सुविधा दी गई है।

डिजायर और एमियो के डीज़ल वर्जन में भी ऑटोमैटिक का विकल्प आता है। डिजायर में एएमटी ट्रांसमिशन दिया गया है, जबकि एमियो डीज़ल में 7-स्पीड डीएसजी ट्रांसमिशन दिया गया है। एस्पायर के 1.5 लीटर पेट्रोल इंजन में ड्यूल-क्लच गियरबॉक्स दिया गया है। अमेज़ के पेट्रोल वर्जन में सीवीटी गियरबॉक्स और एक्सेंट में 4-स्पीड ऑटोमैटिक गियरबॉक्स दिया गया है।

पेट्रोल

सभी कारों में 1.2 लीटर का पेट्रोल इंजन लगा है, जबकि एस्पायर में 1.5 लीटर पेट्रोल इंजन का विकल्प भी मिलता है। एस्पायर का 1.5 लीटर इंजन सबसे ज्यादा पावरफुल है, इसकी पावर 112 पीएस और टॉर्क 136 एनएम है।

नई डिजायर और एक्सेंट में 1.2 लीटर का इंजन लगा है, डिजायर में 84.3 पीएस की पावर और 114 एनएम टॉर्क मिलता है। होंडा अमेज़ में 90 पीएस की पावर और 110 एनएम का टॉर्क मिलता है। यहां पावर के मामले में हुंडई एक्सेंट आगे है।

माइलेज के मोर्चे पर मौजूदा डिजायर सेगमेंट में सबसे आगे है, इसके माइलेज का दावा 20.9 किमी प्रति लीटर का है, संभावना है कि नई डिजायर में भी इतना ही माइलेज मिलेगा। इसके ऑटोमैटिक वर्जन में मैनुअल की तुलना में ज्यादा माइलेज मिल सकता है। नई डिजायर के वी वेरिएंट से ऑटोमैटिक गियरबॉक्स मिलेगा। नई डिजायर पुराने मॉडल से करीब 80-100 किलोग्राम कम वज़नी है।

डीज़ल

डिजायर में 1.3 लीटर और एक्सेंट में 1.2 लीटर का इंजन लगा है, इन दोनों की पावर 75 पीएस और टॉर्क 190 एनएम है। अमेज़, एमियो और एस्पायर में 1.5 लीटर का इंजन दिया गया है, लेकिन इनकी पावर और टॉर्क अलग-अलग है। अमेज़ में यह इंजन 100 पीएस की पावर और 200 एनएम का टॉर्क देता है, एमियो में 110 पीएस की पावर और 250 एनएम का टॉर्क देता है, जबकि फीगो एस्पायर में यही इंजन 100 पीएस की पावर और 250 एनएम का टॉर्क देता है। डीज़ल में फॉक्सवेगन एमियो सबसे पावरफुल है और टॉर्क के मामले में एमियो और एस्पायर दोनों ही बराबर हैं।

हुंडई एक्सेंट के माइलेज का दावा 25.8 किमी प्रति लीटर का है, नई डिजायर के माइलेज की अभी जानकारी नहीं मिली है, संभावना है कि डिजायर के डीज़ल वर्जन का माइलेज एक्सेंट से भी ज्यादा होगा।

निष्कर्ष

अगर आप कम बजट में अच्छे फीचर वाली कार की चाहते हैं तो टाटा टिगॉर आपके लिए बेहतर विकल्प है। अगर बजट थोड़ा बढ़ा लेते हैं तो हुंडई एक्सेंट ले सकते हैं, इस में कई सारे फीचर दिए गए हैं। नई डिजायर की कीमतों का अभी खुलासा नहीं हुआ है, अगर डिजायर आक्रामक कीमत पर आती है तो इसे चुनना भी सही फैसला होगा, इस में बड़ा केबिन और एडवांस फीचर के अलावा बेहतर माइलेज भी मिलेगा। स्मूद इंजन और बेहतर हैंडलिंग चाहने वालों के लिए 1.2 लीटर फीगो एस्पायर बेहतर रहेगी।


कारदेखो


नई डिजायर की तुलना एक्सेंट, अमेज़, टिगॉर, एस्पायर और एमियो से