स्‍टंप माइक में कैद हुई धोनी की गेंदबाजों को दी गई नसीहत, कोहली को इस नाम से हैं बुलाते

नई दिल्ली(5 फरवरी): टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की गिनती दुनिया के महान विकेटकीपर्स में होती है। धोनी कैच और स्टंपिंग के अलावा विकेट के पीछे से  गेंदबाजों को नसीहत देने के लिए भी जाने जाते हैं। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले वनडे में भारत की स्पिन जोड़ी-कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल ने शानदार प्रदर्शन करते हुए भारतीय टीम को जीत दिलाने का काम किया था। मैच के बाद कुलदीप यादव ने कहा, ”मैदान पर धोनी गेंदबाज की काफी सहायता करते हैं, वो पिच की हरकतों के हिसाब से गेंद फेंकने को कहते हैं। इसका फायदा भी टीम को होता है। धोनी भाई जब रहते हैं तो गेंदबाजों को 40 प्रतिशत काम करना होता बाकि 60 प्रतिशत धोनी खुद आपके लिए कर देते हैं”। धोनी मैदान पर किस तरह अपने गेंदबाजों का मनबोल बढ़ाने का काम करते हैं इस बात का अंदाजा स्‍टंप माइक में रिकॉर्ड आवाज से लगाई जा सकती है। डरबन के किंग्समीड स्टेडियम में खेले गए पहले वनडे मैच के दौरान धोनी लगातार गेंदबाजों को गेंद कहां फेंकना है, इस बात का निर्देश दे रहे थे।

कुलदीप यादव की गेंद पर विराट कोहली ने शानदार फील्डिंग करते हुए गेंद पकड़ी तो धोनी ने चीकू कहकर उनका मनोबल बढ़ाया। एंडिल फेहलुकवेओ जब बल्लेबाजी करने आए तो धोनी ने कुलदीप यादव से कहा, ”इसको जब तक छह गेंद समझ आएगी, तब तक ओवर खत्म हो जाएगा”। वहीं चहल की गेंद पर धोनी लगातार उन्हें सही निर्देश देते रहे, इस दौरान धोनी चहल को चैली कहकर पुकार रहे थे।

ये पहली बार नहीं है इससे पहले भी जब ऑस्ट्रेलिया की टीम भारत दौर पर आई थी तो धोनी ने कुलदीप यादव को समझाने का काम किया था। जिसकी आवाज स्‍टंप माइक में रिकॉर्ड हो गई थी।