सीमा पर तैनात जवानों के लिए बच्चियों ने भेजी हजारों राखियां

नई दिल्ली ( 4 अगस्त ): भाई बहन के प्यार रक्षाबंधन के मौके पर इस बार स्कूली बच्चों द्वारा तैयार हजारों राखियां सिक्किम और सियाचिन में तैनात जवानों को भेजी जाएंगी। सरहद पर देश की सुरक्षा में लगे जवानों के हाथों में राखी सजाने के इस प्रयास की शुरुआत बीजेपी नेता तरुण विजय ने की है। 

इस अनूठी पहल में देहरादून और तमिलनाडु के स्कूली बच्चों ने सिक्किम और सियाचिन में तैनात सैनिकों के लिए दस हजार राखियां भेजी हैं। रक्षा राज्य मंत्री सुभाष भामरे ने इस आयोजन की प्रशंसा करते हुए कहा कि नन्हे बच्चों द्वारा राखियां भेजने से सीमा पर खड़े जवानों का मनोबल बढ़ेगा। भामरे ने तमिल और उत्तराखंड के स्कूली बच्चों को रक्षा मंत्रालय में आमंत्रित किया। साउथ ब्लॉक स्थित रक्षा मंत्रालय में पहली बार स्कूली बच्चों को आने दिया गया। सिस्टर फॉर जवान नाम के इस पहल की शुरुआत तरुण विजय ने की। 

रक्षा राज्य मंत्री सुभाष भामरे के साथ ही सांसद जगदम्बिका पाल एवं जलगाव से सांसद रक्षा खड़से ने रक्षाबंधन से भरे बॉक्सों को रिसीव किया। सुभाष बामरे ने तरुण विजय की तारीफ करते हुए कहा कि वह हमेशा इस तरह की पहल करते हैं, इससे जवानों का मनोबल निश्चित तौर पर बढ़ेगा। 

इस दौरान सुभाष बामरे ने राखी भी बंधवाई। उन्होंने कहा कि इन राखियों को सियाचिन, सिक्किम और जैसलमेर में तैनात सैनिकों को भेजी जाएंगी।