जिम्मेदारों की लापरवाही से छात्र की जिंदगी दांव पर

 

नई दिल्ली(4 सितंबर): राजस्थान के जालौर जिले रानीवाड़ा के आदर्श राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय की कक्षा 11वीं में पढ़ने वाले एक छात्र के स्कूल में यूनिफार्म पहनकर नहीं आने पर प्रिंसिपल ने उसकी टीसी काट दी। डिप्रेशन में आए छात्र ने प्रिंसीपल के रूम में जाकर जहर पी लिया। 

- चौंकाने वाली बात थी कि उसे अस्पताल पहुंचाने की बजाय प्रिंसिपल वहां से भाग छूटा तथा अस्पताल में उसी खैर खबर लेने भी नहीं पहुंचा। 

- स्कूल स्टाफ ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया, जहां से देर शाम उसे गुजरात रेफर कर दिया गया। 

- जानकारी के अनुसार आराउमा विद्यालय के कक्षा 11वीं के छात्र विष्णु सिंह पुत्र रुपसिंह की टीसी काट देने से वह डिप्रेशन में गया। उसने डिप्रेशन में आकर प्रिंसिपल रूप में जाकर जहर पी लिया। प्रिंसिपल वहां से भाग छूटे।

- अध्यापक दानाराम स्टाफ उसे जीप से तुरंत अस्पताल लेकर गए। जहांसे उसका प्राथमिक उपचार करने के बाद गुजरात रेफर किया गया। चिकित्सकों ने बताया कि संभवतया छात्र ने जुएं मारने की दवाई पी ली थी, अस्पताल लाने पर उल्टियां करवा काफी जहर बाहर निकाल दिया था मगर असामान्य होने पर उसे गुजरात रेफर किया हैं। कार्यवाह थाना प्रभारी कुयाराम ने छात्र के बयान लेकर मामला दर्ज कर लिया है।