दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा होगी स्टेचू ऑफ यूनिटी

अहमदाबाद (6 जून): प्रधानमंत्री मोदी जब गुजरात के मुख्यमंत्री थे, तब उन्होंने 31 अक्टूबर 2013 को केवड़िया में स्टेचू ऑफ यूनिटी की नीव रखी थी। अब तक भारत के पहले गृह मंत्री सरदार वल्लभभाई पटेल की 182 मीटर ऊंची प्रतिमा केवल 59 मीटर ही बन सकी है। सरदार वल्लभभाई पटेल की इस प्रतिमा की ऊंचाई गुजरात विधान सभा की कुल सीटों (182) के बराबर रखी गई है। पूरा होने के बाद स्टेचू ऑफ यूनिटी दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा होगी।

मूर्ति का बाहरी ढांचा बनाने के लिए टीक्यू आर्ट फाउंड्री ने कारीगर राम सुतार के नेतृत्व में तांबे के पांच हजार पैनल डिजाइन किए हैं। टीक्यू आर्ट फाउंड्री वर्कशाप ने पहले चरण में वल्लभभाई पटेल की मूर्ति के पैरों और धोती के लिए तांबे के पैनल तैयार कर लिए हैं जो कुछ ही हफ्तों में भारत पहुंच जाएंगे।

आपको बता दें कि मूर्ति बनाने के लिए इस्तेमाल होने वाला स्टील त्रिची में तैयार किया जा रहा है, जहां से इसे गुजरात लाया जाएगा। चीन से करीब 100 कारीगर आएंगे। चीनी कारीगरों के आने तक स्टेचू ऑफ यूनिटी करीब आधी ( 90 मीटर) तक बन जाएगा।